scorecardresearch
 

DU Admission 2022: CUET के बगैर एडमिशन को मान्‍यता नहीं देगा दिल्ली विश्वविद्यालय, निर्देश जारी

DU CUET Admission 2022: कॉलेज ने एक प्रॉस्पेक्टस जारी कर घोषणा की थी कि वह ग्रेजुएट कोर्सेज़ के लिए छात्रों को 85:15 वेटेज के तहत एडमिशन देगा. इसमें 85 फीसदी सीटें CUET स्‍कोर से भरी जाएंगी जबकि 15 फीसदी सीटें कॉलेज के इंटरव्‍यू के माध्‍यम से. यूनिवर्सिटी ने कॉलेज से इस प्रॉस्पेक्टस को तुरंत वापस लेने के लिए कहा है. 

X
DU CUET Admission 2022: DU CUET Admission 2022:
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कॉलेज को प्रॉस्‍पेक्‍टस वापिस लेने का भी निर्देश
  • CUET के तहत ही होंगे कॉलेजों में एडमिशन

DU CUET Admission 2022: दिल्ली यूनिवर्सिटी ने मंगलवार को प्रतिष्ठित सेंट स्टीफंस कॉलेज को चेतावनी दी कि वह CUET दिशानिर्देशों का उल्लंघन कर किए गए सभी एडमिशन को 'नल एंड वॉयड' यानी अमान्‍य घोष‍ित कर देगा. कॉलेज ने एक प्रॉस्पेक्टस जारी कर घोषणा की थी कि वह ग्रेजुएट कोर्सेज़ के लिए छात्रों को 85:15 वेटेज के तहत एडमिशन देगा. इसमें 85 फीसदी सीटें CUET स्‍कोर से भरी जाएंगी जबकि 15 फीसदी सीटें कॉलेज के इंटरव्‍यू के माध्‍यम से. यूनिवर्सिटी ने कॉलेज से इस प्रॉस्पेक्टस को तुरंत वापस लेने के लिए कहा है. 

सेंट स्टीफंस के प्रिंसिपल जॉन वर्गीज को लिखे एक पत्र में, यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार विकास गुप्ता ने कहा कि एडमिशन मानदंडों के उल्लंघन में किए गए किसी भी एडमिशन को मान्यता नहीं दी जाएगी और ऐसे स्‍टूडेंट्स का एडमिशन भी रद्द कर दिया जाएगा. सेशन 2022-23 के ग्रेजुएट एडमिशन प्रॉस्पेक्टस कॉलेज ने 85:15 के वेटेज के तहत एडमिशन देने की बात कही थी. यूनिवर्सिटी ने इस पर कहा, "यह दिल्ली विश्वविद्यालय के वैधानिक निकायों द्वारा अनुमोदित प्रवेश नीतियों का स्पष्ट उल्लंघन है. आपको अपने कॉलेज की वेबसाइट से इस तरह की असंगत नीति वाले एडमिशन प्रॉस्‍पेक्‍टस को तुरंत वापस लेना होगा."

यूनिवर्सिटी ने कॉलेज को एक सार्वजनिक नोटिस जारी करने के लिए भी कहा है जिसमें स्पष्ट रूप से कहा गया हो कि विश्वविद्यालय की स्वीकृत एडमिशन नीति सेशन 2022-2023 के लिए UG कोर्सेज़ के लिए सेंट स्टीफंस कॉलेज द्वारा पेश किए जाने वाले विभिन्न कोर्सेज़ में एडमिशन के लिए लागू होंगी. यूनिवर्सिटी ने कॉलेज से यह भी कहा है कि एडमिशन नियमों के उल्लंघन के चलते आपके कॉलेज में पढ़ने वाले स्‍टूडेंट्स के जीवन और करियर पर किसी भी परिणामी प्रभाव के लिए यूनिवर्सिटी जिम्मेदार नहीं होगी.

बता दें कि इस वर्ष से विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने सभी यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए एक कॉमन प्रवेश परीक्षा (CUET) आयोजित करने का निर्णय लिया है. परीक्षा का उद्देश्य देश भर के उम्मीदवारों को केंद्रीय विश्वविद्यालयों में एडमिशन के लिए समान अवसर प्रदान करना है. CUET UG 2022 के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और अब परीक्षा में प्राप्‍त नंबरों के आधार पर छात्रों को कॉलेजों में एडमिशन दिया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें