scorecardresearch
 

गाजियाबाद: मजबूरी का उठा रहे फायदा, लॉकडाउन के कारण वसूली में जुटे ऑटो चालक

मजबूरी में घर से बाहर जाने वाले लोगों को गाजियाबाद में दोहरी मार झेलनी पड़ रही है. एक तो बंदी की मार ऊपर से जो ऑटो या डग्गामार वाहन सड़कों पर चल भी रहे हैं, वो लोगों से अवैध वसूली कर रहे हैं और तय रकम से ज्यादा किराया वसूल रहे हैं.

कोरोना की वजह से यूपी में भी पूरी तरह से लॉक डाउन है (सांकेतिक फोटो) कोरोना की वजह से यूपी में भी पूरी तरह से लॉक डाउन है (सांकेतिक फोटो)

  • गाजियाबाद में अवैध वाहनों की खुली पोल
  • कैमरा देखकर भाग खड़े हुए पुलिसकर्मी

पूरे देश में लॉकडाउन की वजह से लोग परेशान हैं. जो लोग सार्वजनिक वाहनों से सफर करते हैं उनके लिए परेशानी और बढ़ती जा रही है. दरअसल, मजबूरी में घर से बाहर जाने वाले लोगों को गाजियाबाद में दोहरी मार झेलनी पड़ रही है. एक तो बंदी की मार ऊपर से जो ऑटो या डग्गामार वाहन सड़कों पर चल भी रहे हैं, वो लोगों से अवैध वसूली कर रहे हैं और तय रकम से ज्यादा किराया वसूल रहे हैं.

आज तक/ इंडिया टुडे की टीम ने खुद मौके पर जाकर इस बात की तस्दीक की. आरोप है कि पुलिस के संरक्षण में अवैध तरीके से ऑटो और डग्गामार वाहन चल रहे हैं, जिनमें यात्रा करने वाले लोगों से जमकर वसूली की जा रही है. ये सारे डग्गामार वाहन बिना परमिशन के आनंद विहार और नोएडा से गाज़ियाबाद के लाल कुआं तक चल रहे हैं.

कोरोना पर aajtak.in की विस्तृत कवरेज देखने के लिए यहां क्लिक करें

इन वाहनों का इस्तेमाल ज्यादातर वो मजदूर तबका कर रहा है, जो पलायन के लिए मजबूर है. वे ऑटो और प्राइवेट बस वाले उन मजदूरों की मजबूरी का फायदा उठा रहे हैं. आज तक / इंडिया टुडे की टीम ने अवैध तरीके से सवारियों को लादकर ले जाने वाले कई डग्गामार वाहनों को पकड़ा.

पूछने पर एक ऑटो वाले ने बताया "सर पता है ना चलाने की इजाजत नहीं है, लेकिन लोग परेशान हैं तो उनके लिए चला रहे हैं, ज्यादा पैसा नहीं वसूल रहे हैं. आप कहो तो बंद कर देंगे. केवल मैं नहीं चला रहा 40 से 50 ऑटो चल रहे हैं, लाल कुआं छोड़ रहे हैं."

ये ज़रूर पढ़ेंः कोरोना को लेकर चीन की गलतियों से ये सबक ले सकते हैं हम!

इस संबंध में हमारी टीम ने यूपी पुलिस के कर्मचारियों से बात करने की कोशिश की. हमारे संवाददाता ने पूछा कि यूपी पुलिस के जवानों के सामने ऑटो चल रहे हैं, भीड़ भर कर सवारियां ले जा रहे हैं लेकिन पुलिस वाले नहीं रोक रहे. जैसे ही रिपोर्टर ने ये सवाल पूछा, वहां हाईवे पर मौजूद पुलिसकर्मी जवाब देने के बजाय भाग खड़े हुए. एक पुलिसकर्मी बोला "सर अभी रोकता हूं और ये कहते-कहते आगे बढ़ गया."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें