scorecardresearch
 

टिकटॉक वीडियो बना रहा था 15 साल का लड़का, गले में फंदा अटकने से मौत

लोगों पर टिकटॉक वीडियो बनाने का खुमार इस तरह छाया हुआ है कि वो अपनी जान की परवाह भी नहीं कर रहे हैं. राजस्थान के दौसा में एक बच्चा टिकटॉक पर वीडियो बना रहा था और अचानक उसका उसका पैर फिसल गया फिर गले में फंदा लगने से उसकी मौत हो गई.

टिकटॉक वीडियो बनाने के चक्कर में बच्चे की मौत (Photo Aajtak) टिकटॉक वीडियो बनाने के चक्कर में बच्चे की मौत (Photo Aajtak)

  • टिकटॉक वीडियो बनाते हुए बच्चे की मौत
  • स्टंट दिखाकर वीडियो बनाता था नाबालिग

राजस्थान के दौसा से एक दर्दनाक घटना सामने आई है. जहां पर एक मासूम की टिकटॉक वीडियो बनाते समय जान चली गई. दौसा के दरवाजा पाड़ा मोहल्ले में रहने वाला नाबालिग टिकटॉक पर वीडियो बनाने का शौकीन था और तरह-तरह के स्टंट दिखाकर वीडियो बनाता था. गुरुवार रात भी वो अपने कमरे में पंखे से फंदा लगाकर वीडियो बनाने जा रहा था. इसी दौरान उसका पैर फिसल गया और गले में फंदा लगने से उसकी मौत हो गई.

15 साल के बच्चे की मौत

घटना की जानकारी मिलने के बाद कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को जिला अस्पताल के मोर्चरी में रख दिया. बाद में नाबालिग का पोस्टमार्टम किया गया. इस मामले में परिजनों का कहना है कि बच्चा टिकटॉक बनाने का शौकीन था और टिकटॉक बनाते समय ही यह हादसा हुआ. कोतवाली थाना पुलिस अभी इस पूरे मामले की गहराई से जांच कर रही है.

टिकटॉक वीडियो बनाते गई जान

दौसा कोतवाली थाने के प्रभारी राजेश मीणा ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि दरवाजा पाड़ा इलाके में एक नाबालिग बच्चे ने फांसी का फंदा लगाकर जान दे दी है. सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को जिला अस्पताल भिजवाया जहां चिकित्सकों ने बालक को मृत घोषित कर दिया.

परिजनों से पूछताछ की तो सामने आया कि बच्चा टिकटॉक पर वीडियो बनाता था और वह स्टंट दिखाकर टिकटॉक वीडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड करता था. बीती रात भी वह अपने कमरे में फंदा लगाकर वीडियो बना रहा था. इसी दौरान यह हादसा हुआ, हालांकि पुलिस मौत के वास्तविक कारणों की जांच में जुटी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें