scorecardresearch
 

जयपुर में HIV पीड़ित 7 साल की बच्ची से रेप, आरोपी भी चपेट में आया

राजस्थान के जयपुर में 7 साल की बच्ची से रेप का दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है. जिस बच्ची के साथ रेप किया गया, वह एचआईवी पॉजिटिव निकली. इसकी मेडिकल रिपोर्ट काफी पहले आ गई थी, लेकिन बच्ची के माता-पिता एचआईवी पॉजिटिव का मतलब नहीं समझ पाए थे और रिपोर्ट अपने घर में रख दिया था.

आरोपी आरोपी

  • पुलिस ने आरोपी को बताया था आदतन रेपिस्ट
  • 25 से ज्यादा लोगों से रेप का लगाया था आरोप
  • पीड़ित बच्ची के माता-पिता करते हैं मजदूरी

राजस्थान के जयपुर में 7 साल की बच्ची से रेप का दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है. जिस बच्ची के साथ रेप किया गया, वह एचआईवी पॉजिटिव निकली. इसकी मेडिकल रिपोर्ट काफी पहले आ गई थी, लेकिन बच्ची के माता-पिता एचआईवी पॉजिटिव का मतलब नहीं समझ पाए थे और रिपोर्ट अपने घर में रख दिया था.

जब हैदराबाद में लेडी डॉक्टर की गैंगरेप के बाद हत्या का मामला मीडिया की सुर्खियों में सामने आया, तो कुछ लोग उस बच्ची की सुध लेने गए. इस दौरान उन्होंने बच्ची की मेडिकल रिपोर्ट में एचआईवी पॉजिटिव देखा, तो सबके होश उड़ गए. इसके बाद बच्ची के माता-पिता को पता चला कि उनकी बच्ची एचआईवी की शिकार हो चुकी है.

बच्ची के एचआईपी पॉजिटिव होने की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने जेल में कैद रेप के आरोपी का मेडिकल टेस्ट कराया, तो वह भी पॉजिटिव निकला. इस सच्चाई के सामने आने के बाद से पुलिस के हाथ-पांव फूले हुए हैं, क्योंकि पुलिस ने दावा किया था कि आरोपी आदतन बलात्कारी है. वह 25 से ज्यादा महिला, पुरुष और किन्नरों के साथ बलात्कार कर चुका है.

पहले पुलिस ने क्या दावा किया था?

पुलिस का कहना था कि आरोपी ने पूछताछ में 25 से ज्यादा लोगों के साथ रेप करने की बात कबूली है. हालांकि अब जब बच्ची और आरोपी के एचआईवी पॉजिटिव होने की खबर सामने आई, तो पुलिस बैकफुट पर है. अब पुलिस का कहना है कि हमें दो ही पीड़िता मिली थीं, जिनके साथ आरोपी ने कथित तौर पर रेप किया था. अब हम दूसरे पीड़ित की भी जांच करवा रहे हैं.

पुलिस ने मेडिकल रिपोर्ट के बावजूद आरोपी पर ध्यान नहीं दिया और न ही आरोपी का मेडिकल टेस्ट करवाया. इस मामले में अस्पताल की लापरवाही भी सामने आ रही है. राजस्थान के सरकारी अस्पताल जेके लोन अस्पताल में बच्ची का इलाज हुआ था, मगर डॉक्टरों ने इस बच्ची के एचआईवी पॉजिटिव होने की रिपोर्ट पर ध्यान नहीं दिया था.

बच्ची के माता-पिता मजदूर हैं और बेहद गरीब हैं. इसी साल एक जुलाई की शाम को जब बच्ची घर से पड़ोस की दुकान पर बिस्कुट खरीदने जा रही थी, तो आरोपी जीवाणु ने कथित तौर पर उसको किडनैप कर लिया था. इसके बाद आरोपी ने बच्ची के साथ रेप किया था और लहूलुहान हालत में सड़क किनारे फेंककर भाग गया था. इस घटना के बाद पूरे शहर में बवाल मचा था और कई दिनों तक जयपुर के पुराने शहर में इंटरनेट सेवाएं बंद करनी पड़ी थी. बच्ची के एचआईवी पॉजिटिव होने की खबर आने के बाद से लोग सहमे हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें