scorecardresearch
 

दलित युवक से दरिंदगी, खंभे से बांधकर पीटा, पानी मांगने पर जबरन यूरिन पिलाया

पीड़ित ने पुलिस को बताया कि सात नवंबर को रिंकू ने विवाद पर बात करने के लिए अपने घर बुलाया. पीड़ित ने आरोप लगाया कि जब वह घर पहुंचा तो चार लोगों ने उसकी पिटाई की और खंभे से बांध दिया.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • मामले में पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ किया मामला दर्ज
  • पानी मांगा तो यूरिन पीने को मजबूर किया गया

पंजाब के संगरूर में 37 साल के एक दलित युवक की खंभे से बांधकर पिटाई की गई और पेशाब पीने को मजूबर किया गया. पुलिस ने बताया कि पीड़ित छांगलीवाला गांव का रहने वाला है. रिंकू नामक शख्स और कुछ अन्य लोगों के साथ उसका विवाद था.   

पीड़ित ने पुलिस को बताया कि सात नवंबर को रिंकू ने विवाद पर बात करने के लिए अपने घर बुलाया. पीड़ित ने आरोप लगाया कि जब वह घर पहुंचा तो चार लोगों ने उसकी पिटाई की और खंभे से बांध दिया. जब उसने पानी मांगा तो उसे पेशाब पीने को मजबूर किया गया.

चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

पुलिस ने बताया कि चार लोगों के खिलाफ अवैध तरीके से बंधक बनाने और आईपीसी की विभिन्न धाराओं के साथ-साथ अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत लेहरा थाने में मामला दर्ज किया गया है.

पंजाब अनुसूचित जाति आयोग ने भी संगरूर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मामले में रिपोर्ट देने को कहा है. आयोग की अध्यक्ष तेजिंदर कौर ने एक बयान में कहा कि मीडिया में आई खबरों से घटना की जानकारी मिली जिसके आधार पर स्व संज्ञान लेकर रिपोर्ट तलब की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें