scorecardresearch
 

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा राकेश पांडे के एनकाउंटर का मामला, जांच आयोग बनाने की मांग

सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में 3 सदस्यीय जांच आयोग बनाने की मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश पुलिस डेयर डेविल बनने की कोशिश कर रही है.

सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो) सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)

  • राकेश पांडे के एनकाउंटर का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा
  • एनकाउंटर की निष्पक्ष जांच की मांग की गई

बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड के आरोपी राकेश पांडे के एनकाउंटर का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. सुप्रीम कोर्ट के वकील विशाल तिवारी ने याचिका दाखिल कर राकेश पांडे एकांउटर पर सवाल उठाए हैं. याचिका में एनकाउंटर की निष्पक्ष जांच की मांग की गई है.

साथ ही सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में 3 सदस्यीय जांच आयोग बनाने की मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश पुलिस डेयर डेविल बनने की कोशिश कर रही है.

याचिकाकर्ता ने एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिस राकेश पांडे को खोज नहीं पा रही थी और अचानक ही उसकी जानकारी मिलती है और उसका एनकाउंटर हो जाता है. याचिका में कहा गया है कि ऐसी घटनाओं से संविधान, न्यायपालिका और कानून के शासन की सर्वोच्चता दांव पर लग जाती है.

ये भी पढ़ें- मुख्तार अंसारी का शूटर राकेश पांडे एनकाउंटर में ढेर, विधायक हत्याकांड में था वॉन्टेड

बता दें कि बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड में आरोपी राकेश पांडे को यूपी पुलिस ने रविवार को एक एनकाउंटर में ढेर कर दिया. उस पर एक लाख रुपये का इनाम था. राकेश पांडे मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी का करीबी था. लखनऊ के सरोजनीनगर में एसटीएफ ने राकेश पांडे का एनकाउंटर में ढेर किया. मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद राकेश पांडेय मुख्तार अंसारी गैंग का बड़ा शूटर बन गया था.

ये भी पढ़ें- राकेश पांडे के पिता ने सरकार से पूछा- किस आधार पर किया बेटे का एनकाउंटर

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा है कि गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद पांडे मुख्तार अंसारी गिरोह का मुख्य शूटर बन गया. राकेश पांडे और अन्य आरोपियों ने साल 2005 में बीजेपी नेता कृष्णानंद राय और 6 अन्य व्यक्तियों की हत्या में 400 राउंड फायर किए थे. अपराधियों ने नृशंस हत्या के लिए एके-47 का भी इस्तेमाल किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें