scorecardresearch
 

दिल्ली हिंसा: पूर्व पार्षद इशरत जहां ने शादी के लिए अंतरिम जमानत की गुहार लगाई

पूर्व निगम पार्षद ने दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट में 30 दिन की अंतरिम जमानत देने के लिए अर्जी दायर की है. इशरत जहां पर फरवरी में नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में केस दर्ज किया गया था.

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में भड़की थी हिंसा (फाइल फोटो) नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में भड़की थी हिंसा (फाइल फोटो)

  • इशरत जहां ने अंतरिम जमानत देने के लिए अर्जी दायर की
  • कोर्ट 30 मई को करेगा अर्जी पर सुनवाई

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली दंगे मामले में तिहाड़ जेल में बंद कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद इशरत जहां ने निकाह करने के लिए कोर्ट से जमानत की गुहार लगाई है. उन्होंने दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट में 30 दिन की अंतरिम जमानत देने के लिए अर्जी दायर की है. इशरत जहां पर फरवरी में नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में केस दर्ज किया गया था. इशरत जहां की अर्जी पर कोर्ट 30 मई को सुनवाई करेगा.

वीडियो कॉन्फ्रेंस से हुई सुनवाई में सरकार की तरफ से अतिरिक्त सरकारी अभियोजक धरम चंद ने कोर्ट से कहा कि शादी के निमंत्रण पत्र की वास्तविकता का सत्यापन करना होगा. वकील एस के शर्मा के जरिए दाखिल अंतरिम जमानत अर्जी में इशरत जहां ने कहा कि उनकी शादी 2018 में ही 12 जून 2020 के लिए तय की गई थी.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

याचिका में कहा गया है कि यदि जमानत दी जाती है तो इशरत जहां किसी सबूत को नष्ट करने या गवाह को प्रभावित करने का प्रयास नहीं करेगी. दिल्ली पुलिस ने इशरत जहां को हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया था. इशरत जहां जगतपुरी इलाके की पूर्व निगम पार्षद रही हैं. पुलिस के मुताबिक इन पर खुरेजी में हिंसा फैलाने का आरोप है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर इस साल की शुरुआत में नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हिंसा भड़की थी. मौजपुर, जाफराबाद, चांदबाग और करावलनगर में सबसे ज्यादा हिंसा देखी गई थी. इस हिंसा में बड़े पैमाने पर सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचा था.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें