scorecardresearch
 

मैनपुरी केस: IG बोले- दोषियों तक पहुंचने के लिए हर एंगल से हो रही जांच

एसआईटी ने मैनपुरी में नवोदय छात्रा की संदिग्ध मौत मामले की जांच शुरू कर दी है. इस मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की चिट्ठी के बाद योगी सरकार ने कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया था.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • मैनपुरी में नवोदय विद्यालय की छात्रा की हो गई थी संदिग्ध मौत
  • प्रियंका गांधी ने योगी को खत लिखकर की थी दखल देने की मांग

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी में नवोदय छात्रा की संदिग्ध मौत मामले की जांच शुरू हो गई है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खत लिखकर इस मामले में दखल देने की मांग की थी. इसके बाद योगी सरकार ने कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल के नेतृत्व में एसआईटी गठित करने का आदेश दिया था.

आईजी मोहित अग्रवाल का कहना है कि मामले में अभी जांच चल रही है. एसआईटी सभी तथ्यों का अध्ययन कर रही है. जो भी आशंकाएं हैं, उनके संबंध में डॉक्टर से बातचीत की जा रही है. इसके साथ ही उसका समाधान तलाशा जा रहा है.

उन्होंने कहा कि अभी हम ऐसी कोई चीज पब्लिक में नहीं लाएंगे, जिससे विवेचना प्रभावित हो. आईजी ने यह भी कहा है कि दोषियों तक पहुंचने के लिए इस मामले की हर दृष्टिकोण से जांच चल रही है. काम पूरा होने पर ही हम इस मामले में रिपोर्ट दाखिल करेंगे.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने 28 नवंबर को सीएम योगी को लिखे खत में कहा था कि मैनपुरी में छात्रा की मौत की घटना हृदयविदारक है. प्रियंका ने पत्र में लिखा था, 'बेटी का शव रहस्यमय परिस्थिति में हॉस्टल में पाया गया. उसके शव पर चोट के निशान थे, लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट कहती है कि शव पर चोट के कोई निशान नहीं थे. मृतक छात्रा के परिवार ने कहा कि लड़की की हत्या की गई है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें