scorecardresearch
 

पालघर मॉब लिंचिंगः महाराष्ट्र पुलिस ने SC में दाखिल किया जवाब, CBI जांच का किया विरोध

पुलिस ने कहा है कि अभी जांच चल रही है. हम जांच की डिटेल सार्वजनिक नहीं कर सकते. महाराष्ट्र पुलिस ने जांच की डिटेल भी सीलबंद कर सर्वोच्च अदालत में दाखिल कर दी है.

सुप्रीम कोर्ट कर रहा जनहित याचिका पर सुनवाई सुप्रीम कोर्ट कर रहा जनहित याचिका पर सुनवाई

  • कहा- जांच जारी, सार्वजनिक नहीं कर सकते डिटेल
  • सुप्रीम कोर्ट में सीलबंद कर दाखिल की जांच डिटेल

पालघर में दो साधुओं समेत तीन लोगों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) या राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंपने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में तीन याचिकाएं दाखिल की गई हैं, जिनपर सर्वोच्च अदालत सुनवाई कर रही है. इस मामले की जांच कर रही महाराष्ट्र पुलिस ने सर्वोच्च अदालत में अपना जवाब भी दाखिल कर दिया है.

महाराष्ट्र पुलिस ने पालघर मॉब लिंचिंग केस की जांच सीबीआई या एनआईए को सौंपने का विरोध किया है. पुलिस ने कहा है कि अभी जांच चल रही है. हम जांच की डिटेल सार्वजनिक नहीं कर सकते. महाराष्ट्र पुलिस ने जांच की डिटेल भी सीलबंद कर सर्वोच्च अदालत में दाखिल कर दी है. सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई गुरुवार को होगी.

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली हिंसा पीड़ित शख्स को आया कॉल, मिली जान से मारने की धमकी, केस दर्ज

गौरतलब है कि साधुओं की मॉब लिंचिंग के इस मामले की जांच सीबीआई या एनआईए से कराने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल हुई थी. इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है. 27 जुलाई को महाराष्ट्र सरकार ने इस मामले की जांच को लेकर स्टेटस रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की थी. कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार की ओर से दाखिल स्टेटस रिपोर्ट को रिकॉर्ड में ले लिया था.

बता दें कि लॉकडाउन के दौरान 16-17 अप्रैल की रात अपने गुरू के ब्रह्मलीन होने की खबर सुनकर गुजरात जा रहे दो साधुओं की चालक समेत भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिसकर्मियों के सामने घटी इस घटना में लापरवाही सामने आने पर कई पुलिसकर्मियों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई भी हुई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें