scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश: बिना हेलमेट और सीट बेल्ट के पकड़े गए, पुलिस ने लिखवाया निबंध

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन करने वालों को ट्रैफिक पुलिस ने अनोखे तरीके से जागरूक किया. भोपाल में सीट बेल्ट न लगाने वालों, हेलमेट न पहनने वालों से 100 शब्दों का निबंध लिखवाया गया.

मध्य प्रदेश पुलिस सड़क सुरक्षा सप्ताह मना रही है मध्य प्रदेश पुलिस सड़क सुरक्षा सप्ताह मना रही है

  • ऐसे करीब 150 लोगों को पुलिस ने पकड़ा था
  • निबंध लिखने वालों को किया जाएगा पुरस्कृत

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन करने वालों को ट्रैफिक पुलिस ने अनोखे तरीके से जागरुक किया. भोपाल में सीट बेल्ट न लगाने वालों, हेलमेट न पहनने वालों से 100 शब्दों का निबंध लिखवाया गया. दरअसल, मध्य प्रदेश पुलिस इन दिनों सड़क सुरक्षा सप्ताह मना रही है.

गुरुवार सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक जितने भी दो पहिया और चार पहिया वाहन चालक बिना हेलमेट या सीट बेल्ट के दिखे, उन्हें  पुलिस ने रोक लिया. इसके बाद उन्हें एक टेंट में बैठाकर टेबल, कुर्सी, कागज, पेन दिया गया और उनसे 100 शब्दों का निबंध लिखवाया गया कि उन्होंने हेलमेट क्यों नहीं पहना या सीट बेल्ट क्यों नहीं लगाया.

mp-police-1_011620104950.jpg

ऐसे करीब 150 लोगों को पुलिस ने पकड़ा था. हैरानी की बात ये है कि निबंध में कई लड़कियों ने हेलमेट न पहनने की वजह बताई की पुलिस लड़कियों का चालान नहीं काटती, इसलिए हेलमेट नहीं पहनते. डीआईजी इरशाद वली के मुताबिक, जितने भी लोगों को इस दौरान ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन करने पर पकड़ा गया, उनका जुर्माना नहीं किया गया था.

ट्रैफिक नियमों के पालन के लिए भोपाल पुलिस की ये अनोखी जागरूकता मुहिम की हर ओर तारीफ हो रही है. वहीं, आने वाले दिनों में ट्रैफिक पुलिस वाहन चालकों द्वारा लिखे गए निबंधों को देखेगी और उनमें से पहला, दूसरा और तीसरा पुरस्कार स्वरूप हेलमेट दिया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें