scorecardresearch
 

बैन हटने के बाद BJP नेता की धमकी- मोदी पर उंगली उठाई तो बाजू काटकर हाथ में दे देंगे

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने बैन हटने के बाद खुलेआम धमकी दी है. उन्होंने कहा कि अगर पीएम मोदी की तरफ कोई उंगली उठाएगा, तो हम लोग उसके बाजू काटकर हाथ में पकड़ा देंगे.

हिमाचल प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती हिमाचल प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती

भारतीय जनता पार्टी के नेता और पार्टी के हिमाचल प्रदेश के प्रभारी सतपाल सिंह सत्ती ने चुनाव आयोग का लगाया बैन हटने के बाद एक बार फिर से विवादित बयान दिया है. हिमाचल प्रदेश में बीजेपी के अध्यक्ष सत्ती ने धमकी दी है कि अगर पीएम मोदी की तरफ कोई उंगली उठाएगा, तो हम लोग उसके बाजू काटकर हाथ में पकड़ा देंगे. बीजेपी नेता ने यह धमकी उस समय दी है, जब लोकसभा चुनाव के लिए तीन चरणों के मतदान हो चुके हैं और 29 अप्रैल को चौथे चरण के मतदान होने वाले हैं.

वहीं, हिमाचल के मंडी में दिए गए इस बयान को लेकर वो एक बार फिर से मुश्किल में फंस गए हैं. मंडी के निर्वाचन अधिकारी ने सतपाल सिंह सत्ती के बयान पर संज्ञान लिया. उन्होंने सतपाल सिंह सत्ती के भाषण की फुटेज और ट्रांसक्रिप्ट की कॉपी हिमाचल प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को भेज दी है.

इससे पहले 13 अप्रैल को एक रैली को संबोधित करते हुए सतपाल सिंह सत्ती ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर किया था और उनको गाली दी थी. उन्होंने राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा था, 'आपको (राहुल गांधी) ये ही पता नहीं लगता है कि बोलना क्या है, मंच के ऊपर से आप नरेंद्र मोदी को चोर बोल रहे हैं, चौकीदार चोर है.' बीजेपी नेता ने कहा था, ‘भैया, तेरी मां की ज़मानत हुई है, तेरी ज़मानत हुई है, तेरे जीजे की ज़मानत हुई है. पूरा टब्बर (परिवार) ही ज़मानती है, भाई तू कौन होता है जज की तरह चोर बोलने वाला है.’

इस बीच सतपाल सिंह सत्ती ने कहा था, 'फेसबुक पर एक व्यक्ति ने लिखा जो मैं मंच से नहीं बोल सकता हूं. हम उनके (राहुल गांधी) बारे में नहीं बोल सकते, क्योंकि वो पार्टी के लीडर हैं. सतपाल सिंह सत्ती ने एक फेसबुक पोस्ट पढ़ते हुए कहा कि अगर इस देश का चौकीदार चोर है और तू बोलता है तो तू ****** है.

सतपाल सिंह सती का यह वीडियो वायरल होने के बाद चुनाव आयोग ने उन पर 48 घंटे का बैन लगा दिया था. हालांकि वो इस बैन के बावजूद अपनी बयानबाजी से बाज नहीं आ रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें