scorecardresearch
 

हरियाणा: धर्म के बाहर 'उमर' ने की दूसरी शादी तो गोलियों से भूनकर मार डाला

हरियाणा में पलवल जिले के हथीन में अंतरजातीय प्रेम विवाह के चलते 35 वर्षीय शख्स उमर शेद की बाइक सवार दो युवकों ने गोलियों से भूनकर हत्या कर दी. उमर शेद की यह दूसरी शादी थी.

उमर शेद (फोटो- तनसीम हैदर  ) उमर शेद (फोटो- तनसीम हैदर )

  • अंतरजातीय विवाह बना जान का दुश्मन
  • ताबड़तोड़ गोलियों से भूनकर हत्या
  • बाइक सवार युवकों ने ली जान

हरियाणा में पलवल जिले के हथीन में अंतरजातीय प्रेम विवाह के चलते 35 वर्षीय शख्स उमर शेद की बाइक सवार दो युवकों ने गोलियों से भूनकर हत्या कर दी. उमर शेद की यह दूसरी शादी थी. हत्या की वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. वारदात से गुस्साए परिजनों ने रोड पर जाम लगा दिया, जिससे यातायात बाधित हो गया.

आधे घंटे तक लगे जाम को परिजनों ने पुलिस के आश्वासन के बाद खोला. फिलहाल पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया है.

इस वारदात को बाइक सवार युवकों ने तब अंजाम दिया, जब उमर शेद बाइक से कहीं जा रहे थे. इसे लेकर मृतक के पिता दाउद ने पुलिस को शिकायत दी. उन्होंने कहा कि उनके बेटे उमर शेद की शादी चार महीने पहले रेवाड़ी जिला निवासी बबीता (काल्पनिक नाम) से हुई थी.

शिकायत के मुताबिक, 7 फरवरी 2019 को बबीता के परिजनों ने नजदीकी थाने में मुकदमा दर्ज कराया, जिसके बाद वहां से पुलिस आई और शेद व बबीता को अपने साथ ले गई. फिर बबीता के परिजन उसे अपने साथ ले गए.

शिकायत के मुताबिक, अपनी जान का खतरा देखते हुए बबीता ने सारी जानकारी व्हाट्सप पर उमर शेद को दे दी, जिसके बाद शेद ने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. इसी बीच बबीता दोबारा भागकर शेद के पास आ गई. इसके बाद बबीता के परिजनों की तरफ से शेद के पास फोन आने लगे और वे फोन पर लगातार धमकियां दे रहे थे. धमकियां मिलने के बाद उमर शेद ने हाई कोर्ट में याचिका दायर कर सुरक्षा मांगी और उन्हें सुरक्षा मिल गई.

वहीं, रविवार (8 सितंबर) सुबह 7:00 बजे जब शेद बाइक पर सवार होकर किसी काम से बाजार जा रहे थे, तब सुरक्षाकर्मी उसके साथ नहीं थे. उसी दौरान पीछे से बाइक पर आए दो युवकों ने उमर शेद पर ताबड़तोड़ गोलियों से हमला कर दिया. हमलावरों ने आठ-दस राउंड फायर किए. उमर शेद को सात गोली लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

हत्या की वारदात वहां पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. हथीन थाना इंचार्ज जयराम ने बताया कि वारदात की सूचना मिलते ही वे मौके पर पहुंचे और मृतक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया गया.

वहीं, पीछे से मृतक के गुस्साए परिजनों ने हथीन के जयंति मोड़ पर जाम लगा दिया, जिससे यातायात बाधित हो गया. जाम की सूचना मिलते ही हथीन डीएसपी मौके पर पहुंचे और आश्वासन देकर करीब आधे घंटे लगे जाम को खुलवाया.

मृतक के पिता ने शिकायत में बबीता के परिजन जसवंत सिंह, सतवीर सिंह, रविंद्र, बीरसिंह, सुबे सिंह, धर्मबीर, सतपाल सिंह, सतेंद्र सिंह, हवा सिंह, नरेंद्र लोहिया व चरण के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पोस्टमॉर्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें