scorecardresearch
 

गाजियाबाद: पत्रकार हत्याकांड में अंतिम आरोपी गिरफ्तार, 25 हजार का था इनाम

गोली लगने के बाद अस्पताल में इलाज के दौरान विक्रम जोशी की मौत हो गई थी. इस सनसनीखेज हत्या के मामले में फौरी एक्शन लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने विजय नगर थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया था.

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

  • आकाश बिहारी नाम का आरोपी गिरफ्तार
  • पिछले महीने विक्रम जोशी की हुई थी हत्या

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में 20 जुलाई को हुए पत्रकार हत्याकांड मामले में अंतिम आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. इस आरोपी का नाम आकाश बिहारी है. आकाश बिहारी को गाजियाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पत्रकार हत्यकांड में इस आरोपी पर पुलिस ने 25 हजार रुपये का इनाम रखा था.

पिछले महीने गाजियाबाद में बदमाशों ने पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या कर दी. मामूली बात पर जोशी की बदमाशों के साथ लड़ाई हुई जिसमें उन्हें गोली मार दी गई. घटना 20 जुलाई की है. बाद में अस्पताल में इलाज के दौरान विक्रम जोशी की मौत हो गई थी. इस सनसनीखेज हत्या के मामले में फौरी एक्शन लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने विजय नगर थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया था.

घटना के बाद पत्रकार विक्रम जोशी के घरवाले कई दिनों से इंसाफ की मांग कर रहे हैं. विक्रम जोशी की पत्नी का कहना है कि आरोपियों को गोली मारी जाए, उनका एनकाउंटर किया जाए. विक्रम जोशी को विजय नगर इलाके में बदमाशों ने घेरकर गोली मारी थी. विक्रम जोशी पर हमला भांजी से छेड़छाड़ की शिकायत करने पर बदमाशों ने किया था. बाद में योगी सरकार ने पीड़ित परिवार के लिए 10 लाख के मुआवजे का ऐलान किया था. पुलिस ने इस मामले में अब तक मुख्य आरोपी सहित 10 लोगों को गिरफ्तार किया है.

विक्रम जोशी की हत्या से पहले ही पुलिस ने छेड़खानी की उस शिकायत पर भी जांच शुरू कर दी थी, जिसकी शिकायत विक्रम ने कई बार पुलिस से की थी. हालांकि दूसरे पक्ष ने भी पहले एक मारपीट की शिकायत दी थी. लेकिन मारपीट की वजह क्या थी, यह साफ नहीं हो पाया था. गाजियाबाद पुलिस का कहना है कि दोनों मामलों की जांच जारी थी, इसी दौरान विक्रम जोशी के साथ ये वारदात हो गई. इसी के बाद पुलिस ने छेड़खानी की एफआईआर भी दर्ज कर ली थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें