scorecardresearch
 

ड्रग्स पहुंचाने से किया इनकार तो बदमाशों ने नाबालिग को पिला दिया एसिड

पीड़ित ने इशारे में पुलिस को बताया कि तीन बदमाशों ने उसके मुंह में तेजाब डाल दिया है. तकलीफ में होने के कारण पीड़ित नाबालिग इसके अलावा घटना के बारे में आगे कोई भी जानकारी नहीं दे पाया, लेकिन काफी प्रयास के बाद उसने तीन आरोपियों में से एक का नाम लिया .

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जब एक 14 साल के लड़के ने तीन लोगों के लिए ड्रग कूरियर के रूप में काम करने से मना किया तो बदमाशों ने उसके मुंह में तेजाब डाल दिया. तेजाब मुंह में जाने की वजह से लड़के की बोलने की क्षमता खत्म हो गई है. फिलहाल नाबालिग को लखनऊ के बलरामपुर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.

मामला गुरुवार को उस वक्त सामने आया जब पीड़ित के परिवार वालों ने शिकायत दर्ज कराई. जानकारी के मुताबिक लड़का एक बढ़ई का बेटा है. बुधवार की सुबह वह किसी काम से घर से निकला था और दोपहर में दर्द से कराहते हुए वापस आया. वो अपने चेहरे को एक कपड़े से ढंका हुआ था. उसके परिवारवाले उसे तुरंत अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने कहा कि तेजाब के चलते उसके चेहरे पर जलने के घाव हो गए हैं.

पीड़ित ने इशारे में पुलिस को बताया कि तीन बदमाशों ने उसके मुंह में तेजाब डाल दिया है. तकलीफ में होने के कारण पीड़ित नाबालिग इसके अलावा घटना के बारे में आगे कोई भी जानकारी नहीं दे पाया, लेकिन बाद में काफी प्रयास करने के बाद उसने तीन आरोपियों में से एक का नाम लिया जिसका नाम नूर है.

लड़के की मां ने आरोप लगाया है कि उनके बेटे पर उस वक्त हमला किया गया जब उसने बदमाशों को नशीले पदार्थों की आपूर्ति करने से इनकार कर दिया. उन्होंने यह भी दावा किया है कि उनके बेटे पर कुछ युवाओं द्वारा दबाव डाला गया था. इस बीच डॉक्टरों ने कहा कि लड़का अभी खतरे से बाहर है, लेकिन वे अभी भी इस बारे में निश्चित नहीं हैं कि उसके वोकल कॉर्ड और बात करने संबंधी चीजों पर किस हद तक नुकसान पहुंचा है.

फिलहाल पुलिस ने आरोपी नूर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वहीं पुलिस ने इस मामले को लेकर कहा, 'हम अभी भी हमले के पीछे की मकसद को नहीं जानते हैं क्योंकि नूर इसमें शामिल होने से इनकार कर रहा है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें