scorecardresearch
 

खून से लथपथ बच्चे को देख गश खाकर गिरा पुजारी, 3 दिन बाद हुई मौत

जब ये हादसा हुआ तो मिनटों में वहां हंगामा मच गया. आस-पास के दुकानदार और लोग वहां पहुंचे. इसी दौरान देवराज भी वहां आए. वहां उन्होंने 12 साल के बच्चे को खून से लथपथ और तड़पते देखा. इसे देख उनका दिमाग सन्न रह गया. वो जैसे ही मंदिर की सीढ़ियों के पास पहुंचे गश खाकर गिर गए.

मृतक पुजारी देवराज (फोटो-आजतक) मृतक पुजारी देवराज (फोटो-आजतक)

आंखों के सामने हुआ दर्दनाक हादसा आपके दिलो-दिमाग पर गहरी छाप छोड़ जाता है. कई बार इसका असर इतना महीन हो जाता है कि ऐसे हादसे आप जीवन भर नहीं भूल पाते हैं. ऐसे ही एक हादसे के चश्मदीद को इतना सदमा पहुंचा कि तीन बाद उनकी भी मौत हो गई. हम बात कर रहे हैं महाराष्ट्र की. यहां पर देवराज कालियान देवेन्द्र नाम के एक पुजारी पर एक सड़क हादसे ऐसा असर पड़ा कि तीन दिन बात ही उनकी मौत हो गई.

महाराष्ट्र के सियोन कोलीवाड़ा के एक मंदिर में देवराज पुजारी थे. पिछले शनिवार को इस क्षेत्र के सलमाती पहाड़ी इलाके में 12 साल का एक बच्चा हादसे का शिकार हो गया था, इस हादसे को देखते ही देवराज गश खाकर गिर गए थे. रिपोर्ट के मुताबिक रंजीत कनोजिया नाम का ये किशोर बाइक पर अपने पिता के साथ जा रहा था. तभी ये दोनों एक डंपर के पिछले पहिए की चपेट में आ गए. इस घटना में राजेन्द्र की मौके पर ही मौत हो गई. डंपर के ड्राइवर ने पुलिस को बताया कि वह उसी सड़क पर मौजूद छोटे-छोटे स्टॉल को बचाने की कोशिश कर रहा था. इसी दौरान हादसा हुआ.

जब ये हादसा हुआ तो मिनटों में वहां हंगामा मच गया. आस-पास के दुकानदार और लोग वहां पहुंचे. इसी दौरान देवराज भी वहां आए. वहां उन्होंने 12 साल के बच्चे को खून से लथपथ और तड़पते देखा. इसे देख उनका दिमाग सन्न रह गया. वो जैसे ही मंदिर की सीढ़ियों के पास पहुंचे गश खाकर गिर गए.

देवराज को तुरंत सियोन अस्पताल ले जाया गया. उनके दिमाग की नसें बुरी तरह से जख्मी हो गई थीं. मंगलवार सुबह अस्पताल में उनकी मौत हो गई. देवराज के परिवार के एक सदस्य ने रोते हुए कहा, "वो बेहद भावुक इंसान थे, 8 महीने पहले ही किसी बीमारी की वजह से उनकी बेटी की मौत हो गई थी, वो अपनी 9 साल की बेटी के साथ, बगल में ही रहते थे. उस दिन को जब उन्होंने लड़के को खून से सना हुआ देखा तो गहरे सदमे में चले गए." पुलिस के मुताबिक ये लोग तमिलनाडु के सलेम शहर के रहने वाले हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें