scorecardresearch
 

दिल्ली: इंटीरियर डिजायनर का लॉकडाउन में छूटा काम, शुरू किया मोबाइल लूट का धंधा

पूछताछ में मास्टरमाइंड अर्श ने बताया कि वह पेशे से एक इंटीरियर डेकोरेटर है. लेकिन लॉकडाउन के चलते उसे कोई काम नहीं मिल रहा था. जिसके बाद उसने अपने इलाके के चार लड़कों के साथ मिलकर इस तरह की वारदात को अंजाम देने का प्लान बनाया.

पुलिस के हत्थे चढ़े गैंग के तीन सदस्य पुलिस के हत्थे चढ़े गैंग के तीन सदस्य

  • दिल्ली पुलिस ने द्वारका में मोबाइल लूटने वाले गैंग का किया पर्दाफाश
  • गैंग का मास्टरमाइंड निकला इंटीरियर डिजाइनर, 3 लोग हुए गिरफ्तार

दिल्ली के द्वारका जिले में स्नैचिंग की वारदातों को रोकने के लिए पुलिस की टीम लगातार अपने इलाके में काम कर रही है. पुलिस ने मोबाइल स्नैचिंग कर उसे ऑनलाइन साइट के जरिए बेचने वाले एक गैंग का भंडाफोड़ किया है. इसमें पुलिस ने गैंग के मास्टरमाइंड, रिसीवर और एक स्नैचर को गिरफ्तार करते हुए इनके पास से चार लूटा गया मोबाइल फोन भी बरामद किया है.

द्वारका पुलिस उपायुक्त एंटो अल्फोंस ने बताया कि पिछले कुछ समय से जिले में फोन स्नैचिंग की वारदातों को रोकने के लिए द्वारका एसीपी राजेंद्र सिंह की देखरेख में द्वारका नॉर्थ एसएचओ विजेंदर सिंह, सब इंस्पेक्टर गुरु तेज सिंह, हेड कांस्टेबल जितेंद्र, कुलदीप, कॉन्स्टेबल राजूराम और सुनील की टीम लगाई गई थी. जिसमें पुलिस ने टेक्निकल सर्विलांस, सीसीटीवी, मोबाइल एनालिसिस के जरिए पहले इस गैंग के मास्टरमाइंड को गिरफ्तार किया, जिसकी पहचान मोहम्मद अर्श उस मुमताज के रूप में हुई.

पूछताछ में मास्टरमाइंड अर्श ने बताया कि वह पेशे से एक इंटीरियर डेकोरेटर है. लेकिन लॉकडाउन के चलते उसे कोई काम नहीं मिल रहा था, जिसके बाद उसने अपने इलाके के चार लड़कों के साथ मिलकर इस तरह की वारदात को अंजाम देने का प्लान बनाया. उसकी निशानदेही पर पुलिस ने उसके एक साथी जितेंद्र उर्फ मुंडा और एक रिसीवर मोहम्मद हुसैन को भी गिरफ्तार किया है. इस गैंग के लिए फोन की लूट करने वाला एक स्नैचर सलीम पहले ही एक मामले में गिरफ्तार हो चुका है. जबकि स्नैचिंग के लिए चोरी की बाइक उपलब्ध कराने वाला अभी फरार है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में बेटी से छेड़खानी का विरोध करने पर पिता की हत्या

पुलिस के मुताबिक गैंग का मास्टरमाइंड मोहम्मद अर्श लूटे हुए मोबाइल को ऑनलाइन साइट पर अलग-अलग अकाउंट बनाकर बेचता था. ताकि वह पुलिस की नजर में ना आ सके. इसके साथ ही यह भी पता चला कि मोहम्मद अर्श अब तक 12 से 15 मोबाइल फोन बेच चुका है.

नोएडा में बदमाश एटीएम मशीन ही उखाड़ ले गए

वहीं दूसरी ओर नोएडा में बदमाश पूरा एटीएम ही उखाड़ ले गए. यह वारदात नोएडा के सेक्टर 24 थाना इलाके की है. गुरूवार की सुबह नोएडा पुलिस को खबर मिली कि थाना 24 इलाके में जो एटीएम सेक्टर 52 चौकी के करीब है उसे रात के वक्त बदमाश उखाड़ ले गए.

यह भी पढ़ें: कई बार बेची गई ढाई साल की मासूम, पुलिस ने ऐसे बचाया

सूचना मिलते ही पुलिस की एक टीम तुरंत मौके पर पहुंची तो उन्हें पता लगा कि रात के वक्त इस एटीएम पर कोई सुरक्षा गार्ड मौजूद नहीं होता है. और शायद बदमाशों ने इस बात की पहले से ही रेकी कर रखी थी. जिसके बाद मौका मिलते ही बदमाश एटीएम मशीन ही उखाड़ ले गए. अब पुलिस इस मामले में सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रही है.

लड़कियों से अवैध संबंध के शक में ममेरे भाई की हत्या

नोएडा के थाना फेस टू क्षेत्र में प्रेमिकाओं से अवैध संबंध के शक में ममेरे भाई ने दोस्त के साथ मिलकर सोते हुए अपने फुफेरे भाई की पत्थर से सिर कुचलकर हत्या कर दी. ये घटना मंगलवार तड़के इलाहबांस गांव में घटी. आरोपी हत्या को सड़क हादसा बताकर एंबुलेंस बुलाकर मृतक को अस्पताल ले गए थे. जिसके बाद शव को वहीं छोड़कर भाग निकले. पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल एक आरोपी को मंगलवार रात NSEZ मेट्रो स्टेशन के पास से गिरफ्तार कर लिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें