scorecardresearch
 

दिल्लीः 12 साल की मासूम के साथ दरिंदगी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

पीड़ित बच्ची को देखने के लिए दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी पहुंची थी. उनके मुताबिक आयोग ने संबंधित जिले के डीसीपी को नोटिस भी जारी किया है. इधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी इस मामले की निंदा की. सीएम केजरीवाल खुद एम्स अस्पताल गए और पीड़ित बच्ची से मुलाकात की.

एम्स में इलाज के दौरान बच्ची की हालत नाजुक बनी हुई है (सांकेतिक चित्र) एम्स में इलाज के दौरान बच्ची की हालत नाजुक बनी हुई है (सांकेतिक चित्र)

  • तेजधार हथियार के जख्मों से भरा है बच्ची का जिस्म
  • बच्ची को बचाने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं डॉक्टर

दिल्ली में 12 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी करने वाले आरोपी को आखिरकार पुलिस ने गिरफ्तार कर ही लिया. पीड़ित बच्ची इस वक्त अपनी जिंदगी के लिए जंग लड़ रही है. एम्स के डॉक्टर उसे बचाने का हरसंभव प्रयास कर रहे हैं. इस दरिंदे ने बच्ची के जिस्म को किसी तेजधार हथियार से हमला कर जख्मों से भर दिया था. बच्ची की हालत नाजुक बनी हुई है.

ज्वाइंट सीपी शालिनी सिंह ने बताया कि बच्ची के साथ हैवानियत करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी दिल्ली के मंगोलपुरी का रहने वाला है. वह एक फैक्ट्री में काम करता है. वह वर्ष 2006 में हत्या की एक वारदात को अंजाम दे चुका है. साथ ही वह लूटपाट भी करता है. उसके खिलाफ पहले से कई मामले दर्ज हैं. जेसीपी के मुताबिक पीड़ित बच्ची ने उसे लूटपाट करते देख लिया था इसलिए उस दरिंदे ने बच्ची के साथ ये हैवानियत की.

इससे पहले एम्स में भर्ती पीड़ित बच्ची को देखने के लिए दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी पहुंची थी. उनके मुताबिक आयोग ने संबंधित जिले के डीसीपी को नोटिस भी जारी किया है. इधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी इस मामले की निंदा की. सीएम केजरीवाल खुद एम्स अस्पताल गए और पीड़ित बच्ची से मुलाकात की.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीड़ित बच्ची के परिवार को 10 लाख की सहायता राशि देने का ऐलान किया. मुख्यमंत्री ने बताया कि बच्ची की हालत गंभीर है. बेहोशी की हालत में है. सर्जरी की गई है. इस मामले को लेकर सीएम केजरीवाल ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर से बात की है. इस मामले में सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा है.

बताते चलें कि दिल्ली के पश्चिम विहार थाना इलाके में 12 साल की बच्ची के साथ आरोपी ने दरिंदगी की हदें पार कर दी. उसे जान से मारने की कोशिश की. घायल बच्ची की हालत देखकर डॉक्टरों की रूह भी कांप गई. दिल्ली पुलिस के मुताबिक मंगलवार की देर शाम बच्ची को पुलिस ने संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन उसकी गंभीर हालत देखते हुए उसे तुरंत इलाज के लिए एम्स भेज दिया गया था.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

एम्स के डॉक्टरों ने जब बच्ची को पहली बार देखा तो उनका दिल भी पसीज गया था. दरिंदगी के बाद आरोपी ने धारदार हथियार से बच्ची के सिर, हाथ, पैर, पेट और पूरे शरीर पर कई वार किए थे. जिससे बच्ची का जिस्म गहरे जख्मों से भर गया. पुलिस के मुताबिक वारदात के वक्त बच्ची घर में अकेली थी, उसके मां-बाप घर पर नहीं थे.

एम्स में बच्ची का इलाज कर रहे के डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची के निजी अंग में भी जख्म हैं. इस मामले में पुलिस ने पॉक्सो एक्ट और हत्या की कोशिश का मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस के मुताबिक इस बात की भी जांच की जा रही है कि इस घटना को अंजाम देने वाला आरोपी अकेला था या उसके साथ कोई और भी था. गुरुवार को एक आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गया है. उससे पूछताछ की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें