scorecardresearch
 

दिल्ली: भतीजे के जन्मदिन में जा रहे युवक की हत्या, तीन आरोपी गिरफ्तार

दक्षिण-पश्चिम जिले के सागरपुर इलाके में भतीजे के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे 27 वर्षीय मोनू की हत्या हुई थी. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी.

पुलिस गिरफ्त में हत्यारोपी पुलिस गिरफ्त में हत्यारोपी

  • सागरपुर इलाके में हुई थी वारदात
  • पुलिस ने किया आरोपियों को गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने सागरपुर इलाके में गुरुवार की सुबह हुई लूट के लिए हत्या के मामले का पर्दाफाश कर दिया है. पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. दक्षिण-पश्चिम जिले के सागरपुर इलाके में भतीजे के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे 27 वर्षीय मोनू की हत्या हुई थी. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी.

पुलिस के मुताबिक मोनू को राहुल और सुनील ने पकड़ रखा था, जबकि रमेश ने उस पर चाकू से कई वार क्या था. यह सीसीटीवी बेहद दहलाने वाला है. कत्ल की इस वारदात को जिसने भी देखा वह सिहर उठा. पुलिस के मुताबिक 27 साल का मोनू त्यागी अपने भतीजे के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में जा रहा था.

बताया जाता है कि मोनू सुबह करीब 4.30 बजे ही घर से निकल पड़ा था, लेकिन उसे क्या पता था कि रास्ते में बदमाश उसे घेर लेंगे और महज एक मोबाइल फोन के लिए उसकी जान ले लेंगे.

पुलिस गिरफ्त में हंस रहे थे आरोपी

पकड़े जाने के बाद भी शायद हत्यारोपियों के चेहरे पर न तो कोई भय नजर आ रहा, और न ही कोई पछतावा. यह आरोपी पुलिस की गिरफ्त में खड़े थे, लेकिन चेहरे पर निराशा या दुःख नहीं, बल्कि हंसी तैर रही थी. पूछताछ में यह भी पता लगा कि मोनू की हत्या करने से पहले भी इन तीनों ने दो मोबाइल फोन पहले भी चोरी कर रखा था. लेकिन किसी बड़ा हाथ मारने की फिराक में ये सुबह के वक्त गली में छिपे बैठे थे.

पहले की बैग झपटने की कोशिश

पुलिस के मुताबिक इन बदमाशों के खिलाफ पहले से कोई संगीन मामला दर्ज नहीं है, लेकिन इस वारदात को जिस तरीके से अंजाम दिया गया वह भयानक है. बदमाशों ने मोनू का बैग छीनना चाहा, लेकिन उस बैग में मोनू ने अपने भतीजे के लिए गिफ्ट खरीद कर रखा था. उसने अपना बैग बचाने की पूरी कोशिश की. इस दौरान सुनील ने मोनू की गर्दन पकड़ ली और रमेश ने उसे चाकू मार दिया. फिर उसका फोन और पर्स लेकर फरार हो गए.

सीसीटीवी से हुई पहचान

कत्ल का सीसीटीवी फुटेज मिलने के बाद पुलिस को बदमाशों की पहचान करने में ज्यादा वक्त नहीं लगा. पुलिस ने सबसे पहले रमेश को पकड़ा फिर उसके दो अन्य साथियों को. इनके पास से पुलिस ने मोनू से लूटा गया मोबाइल, पर्स और खून से सने कपड़े भी बरामद कर लिए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें