scorecardresearch
 

दुबई से आए बिल्डर ने 9 लोगों को कोरोना मरीज बनाया, पुलिस ने दर्ज किया केस

गांधीनगर के रहने वाले एक बिल्डर हाल ही में दुबई से गांधीनगर लौटे थे. वो सरकार के बार-बार कहने के बावजूद क्वारनटीन में नहीं रहे. नतीजा यह हुआ कि वो अपने परिवार के पांच सदस्यों को भी कोरोना वायरस का मरीज बना दिया, जिनमें उनकी पत्नी, मां, दादा और दादी शामिल हैं. इस बिल्डर ने अपने फूफा से भी मुलाकात की थी, जिसके चलते उनके फूफा भी कोरोना की चपेट में आ गए.

सांकेतिक तस्वीर (Courtesy- PTI) सांकेतिक तस्वीर (Courtesy- PTI)

  • सरकार के निर्देश के बावजूद बिल्डर ने खुद को नहीं किया क्वारनटीन
  • भारत में कोरोना वायरस की चपेट में आने वालों का आंकड़ा 1030 पहुंचा

कोरोना वायरस को रोकने के लिए सरकार ने 21 दिन का लॉकडाउन कर दिया है. सरकार लगातार सोशल डिस्टेंसिंग की सलाह दे रहे हैं. हालांकि कुछ लोग इसको मान नहीं रहे हैं, जिसका खामियाजा उनको भुगतना पड़ रहा है. इस तरह का एक मामला गुजरात के गांधीनगर से भी आया है, जहां पर सोशल डिस्टेंसिंग और क्वारनटीन में न रहने का खामियाजा 9 लोगों को भुगतना पड़ रहा हैं.

गांधीनगर के रहने वाले एक बिल्डर हाल ही में दुबई से गांधीनगर लौटे थे. वो सरकार के बार-बार कहने के बावजूद क्वारनटीन में नहीं रहे. नतीजा यह हुआ कि वो अपने परिवार के पांच सदस्यों को भी कोरोना वायरस का मरीज बना दिया, जिनमें उनकी पत्नी, मां, दादा और दादी शामिल हैं. इस बिल्डर ने अपने फूफा से भी मुलाकात की थी, जिसके चलते उनके फूफा भी कोरोना की चपेट में आ गए.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

इसके बाद बिल्डर के फूफा, जो पेश से फार्मासिस्ट हैं, अपने परिवार के संपर्क में आए और अपनी पत्नी व परिवार को भी कोरोना मरीज बना दिया. इन सभी की कोरोना जांच की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. बिल्डर के फूफा गांधीनगर में फार्मासिस्ट होने के बावजूद कोरोना को लेकर अलर्ट नहीं रह पाए. वो खुद कोरोना की चपेट में आए और अपने परिवार को भी लपेट लिया.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

इतना ही नहीं, बिल्डर के फूफा गांधीनगर के वेडा गांव के अयोग्य केंद्र के मेडिकल ऑफिसर और मल्टीपर्पज वर्क के संपर्क में भी आए. इसके चलते ये दोनों अधिकारी भी कोरोना की चपेट में आ गए. इन दोनों अधिकारियों की कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. बताया जा रहा है कि पॉजिटिव पाए गए मेडिकल ऑफिसर भी कई लोगों के संपर्क में आए. उन्होंने बिल्डर के फूफा से मिलने के बाद कई लोगों की चेकिंग की थी. ऐसे में जो लोग इनके संपर्क में आए, उन लोगों के भी कोरोना वायरस की चपेट में आशंका है.

कोरोना पर aajtak.in का विशेष वॉट्सऐप बुलेटिन डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

अब सरकार उन सभी लोगों की जांच कर रही है, जो लोग मेडिकल ऑफिसर के पास दवा लेने गए थे. इन सभी लोगों को क्वारनटीन में रहने को कहा गया है. वहीं, पुलिस ने बिल्डर के खिलाफ लापरवाही का मामला दर्ज कर लिया है. साथ ही इलाके के लोगों से लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने के लिए कहा जा रहा है. वहीं, भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर 1020 से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 27 लोगों की मौत हो चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें