scorecardresearch
 

महज 3 हजार रुपये के विवाद में मासूम को अगवा कर किया कत्ल

उत्तर प्रदेश में मेरठ जिले के अम्हेड़ा गांव में महज तीन हजार रुपये के विवाद में एक बच्चे की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई. घटना से गुस्साये ग्रामीणों ने शक के आधार पर एक युवक की पिटाई कर दी और फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया. इसके अलावा ग्रामीणों ने आरोपी के घर में आग भी लगा दी.

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले की वारदात उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले की वारदात

उत्तर प्रदेश में मेरठ जिले के अम्हेड़ा गांव में महज तीन हजार रुपये के विवाद में एक बच्चे की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई. घटना से गुस्साये ग्रामीणों ने शक के आधार पर एक युवक की पिटाई कर दी और फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया. इसके अलावा ग्रामीणों ने आरोपी के घर में आग भी लगा दी.

पुलिस ने बताया कि अम्हेड़ा गांव निवासी विपिन का बेटा देवा सोमवार दोपहर को लापता हो गया था. काफी तलाश करने के बाद भी जब उसका कोई पता नहीं लगा तो परिजनों ने पुलिस को सूचना दी. मंगलवार सुबह गांव के किसान के खेत में एक बच्चे का शव पड़ा होने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची.

पुलिस ने शव की शिनाख्त देवा के रूप में की. मृतक के पिता विपिन ने पड़ोस के ही सतीश सैनी, उसके भाई अंकुर और सन्नी पर अपहरण और हत्या करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में तहरीर दी. इस घटना की वजह तीन हजार रुपये का विवाद है. विपिन ने सतीश को तीन हजार रुपये उधार दिए थे.

उनका कहना है कि वापस करने में वह आनाकानी कर रहा था. सोमवार सुबह सतीश के साथ उनका इसी बात को लेकर विवाद हुआ था. विवाद में उन्होंने सतीश को थप्पड़ मार दिया था. इस पर सतीश बदला लेने की धमकी देते हुए चला गया था. पुलिस ने घटना में शामिल एक आरोपी सतीश को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस ने बताया कि शेष दो आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं. प्रारंभिक जांच के आधार पर पुलिस ने बताया कि सतीश, अंकुर और सन्नी ने घटना के दिन यानी सोमवार को पहले शराब पी, फिर देवा को अगवा कर गन्ने के खेत में ले गये. इसके बाद देर रात गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें