scorecardresearch
 

सुदीक्षा भाटी की मौत का मामला, 2 अज्ञात बाइक सवारों के खिलाफ केस दर्ज

पिता की तहरीर पर औरंगाबाद थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. सुदीक्षा के पिता ने 2 अज्ञात बुलेट सवारों के खिलाफ केस दर्ज कराया है. रिपोर्ट में बाइक पर चाचा के साथ दादरी से मामा के यहां जाने की बात कही गई है.

सुदीक्षा भाटी (फाइल फोटो) सुदीक्षा भाटी (फाइल फोटो)

  • पिता की तहरीर पर औरंगाबाद थाने में मुकदमा दर्ज
  • 2 अज्ञात बुलट सवारों के खिलाफ केस दर्ज

होनहार छात्रा सुदीक्षा भाटी की मौत के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है. पिता की तहरीर पर औरंगाबाद थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. सुदीक्षा के पिता ने 2 अज्ञात बुलेट सवारों के खिलाफ केस दर्ज कराया है. रिपोर्ट में बाइक पर चाचा के साथ दादरी से मामा के यहां जाने की बात कही गई है.

पुलिस ने IPC की धारा 279, 304 A, मोटर वाहन अधिनियम की धारा 177, 184, 192 के तहत मुकदमा दर्ज किया है. वहीं, छात्रा की मौत की जांच एसआईटी करेगी. बुलंदशहर पुलिस ने एक डीसीपी रैंक की अधिकारी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है. बताया जा रहा है कि टीम में क्राइम ब्रांच के दो तेज तर्रार इंस्पेक्टर शामिल हैं, जो इस मामले की जांच करेंगे.

ये भी पढ़ें- सुदीक्षा भाटी की मौत का मामला, जांच के लिए एसआईटी का गठन

क्या है पूरा मामला

अमेरिका से छुट्टियां मनाने सुदीक्षा भाटी अपने घर आई हुई थी. वह अमेरिका लौटने से पहले अपने ननिहाल वालों से मिलना चाहती थी. छात्रा अपने चाचा या भाई के साथ बाइक पर दादरी से बुलंदशहर अपने मामा के घर जा रही थी. लेकिन बुलंदशहर के करीब वो सड़क हादसे का शिकार हो गई. आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की.

ये भी पढ़ें- सुदीक्षा केसः यूपी महिला आयोग ने DM-SP से मांगी रिपोर्ट, NCW ने DGP को लिखा पत्र

सुदीक्षा के पिता जितेंद्र भाटी ने कहा कि पुलिस ढंग से काम नहीं कर रही है. उल्टे उनसे पूछ रही है कि बाइक कौन चला रहा था. बाइक कोई भी चला रहा हो, लेकिन जिसने स्टंट किया, जिसने बेटी को गिराया. पुलिस उन तक क्यों नहीं पहुंच रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें