scorecardresearch
 

जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले की फिराक में है TRF, खुफिया इनपुट के बाद अलर्ट

जम्मू कश्मीर में आतंकी किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं. खुफिया एजेंसियों के इनपुट के मुताबिक लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े आतंकी संगठन टीआरएफ ने अपने आतंकियों को पंच, सरपंच, मजदूर और गैर स्थानीय नागरिकों को चिह्नित कर इन्हें निशाना बनाने के लिए कहा है. खुफिया इनपुट के बाद सुरक्षाबल और एजेंसियां अलर्ट मोड में हैं.

X
खुफिया इनपुट के बाद सुरक्षाबल अलर्ट (फाइल फोटोः PTI) खुफिया इनपुट के बाद सुरक्षाबल अलर्ट (फाइल फोटोः PTI)

जम्मू कश्मीर में एक तरफ जहां चुनाव आयोग, चुनाव कराने की तैयारी में जुटा है. वहीं दूसरी तरफ आतंकी भी फिर से जम्मू कश्मीर में सिर उठाने की कोशिश में जुटे हैं. आए दिन हो रहे आतंकी हमलों के बीच अब खुफिया एजेंसियों का इनपुट है कि लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा आतंकी संगठन TRF कश्मीर में बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है.

खुफिया एजेंसियों का इनपुट है कि टीआरएफ के आतंकी जम्मू कश्मीर में सरपंच, पंच, मजदूर और यहां बसे गैर स्थानीय नागरिकों को निशाना बना सकते हैं. आज तक के पास मौजूद खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक आतंकियों को लगता है कि अमरनाथ यात्रा के पूरा होने बाद सुरक्षाबल रिलैक्स मोड में हैं. आतंकी इसी का फायदा उठाकर बड़े हमले की फिराक में हैं.

खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के मुताबिक लश्कर के फ्रंट ऑर्गनाइजेशन TRF के कश्मीर कमांडर बासित अहमद डार ने जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले करने के लिए सॉफ्ट टारगेट सेट किए हैं. सरपंच, पंच, लेबर और जम्मू कश्मीर में मौजूद बाहरी लोगों पर हमले का टास्क TRF के आतंकी यासिर बिलाल भट्ट, इरफान अहमद भट्ट लोन, साकिब अहमद लोन को दिया गया है.

जानकारी के मुताबिक इन आतंकियों को इन सॉफ्ट टारगेट की  पहचान कर हमले करने का भी निर्देश टीआरएफ की ओर से दिया जा चुका है. खुफिया एजेंसियों ने इस इनपुट के बाद अलर्ट जारी कर दिया है. सुरक्षाबलों के साथ ही अन्य एजेंसियों से भी अलर्ट रहने के लिए कहा गया है. इस खुफिया अलर्ट के बाद सुरक्षाबलों ने चौकसी बढ़ा दी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें