scorecardresearch
 

फ्लाइट से जाता था ठगी करने, किराए पर लेता था लग्जरी गाड़ी, 'Special 26' फिल्म देख बना फर्जी IT अफसर

महाराष्ट्र के चंद्रपुर में एक ठगी के ऐसे आरोपी को पुलिस ने अरेस्ट किया है, जिसने फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर कई राज्यों में ठगी की. यह आरोपी सराफा व्यापारियों को निशाने पर रखता था. आरोपी ने MBA की पढ़ाई की है. वह हवाई सफर कर लग्जरी कार किराए पर लेकर ठगी करने पहुंचता था.

X
सीसीटीवी में कैद हुआ ठगी का आरोपी.
सीसीटीवी में कैद हुआ ठगी का आरोपी.

महाराष्ट्र के चंद्रपुर में बल्लारपुर पुलिस को एक फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर ठगी करने वाले को गिरफ्तार किया है. ठगी के इस आरोपी ने कई राज्यों में सराफा व्यवसाइयों को निशाना बनाया है.

पुलिस के मुताबिक, 27 वर्षीय आरोपी विशाल राजकुमार निलंगे कर्नाटक के बीदर का रहने वाला है. उसे ठगी का यह आइडिया बॉलीवुड फिल्म 'स्पेशल 26' फिल्म देखकर आया था. आरोपी ने MBA की पढ़ाई की है. पुलिस जांच कर रही है कि आरोपी ने कहां-कहां किस-किस के साथ ठगी की है?

पुलिस का कहना है कि आरोपी हवाई सफर कर अलग-अलग राज्यों में जाता था. वहां लग्जरी गाड़ी किराए पर लेता था. इसके बाद खुद को इनकम टैक्स अधिकारी बताकर सराफा व्यापारियों के साथ ठगी को अंजाम देता था. पुलिस पता लगा रही है कि आरोपी ने कर्नाटक, महाराष्ट्र, दिल्ली, तेलंगाना, बेंगलुरु के आलावा किन-किन राज्यों में ठगी को अंजाम दिया है.

'स्पेशल 26' फिल्म देख बना फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी, कई राज्यों के सराफा व्यवसाइयों को लगाया चूना

दरअसल, जनवरी में बल्लारपुर के एक सराफा व्यवसायी को आरोपी ने इनकम टैक्स अधिकारी बनकर ठगा था. उसी मामले में पुलिस को इस आरोपी की तलाश थी. आरोपी ठगी को अंजाम देते हुए CCTV में कैमरे में भी रिकॉर्ड हुआ है.

वह हर बार अपनी पहचान बदल लेता था. फोटोशॉप के जरिए अलग पहचान पत्र बनाकर और मोबाइल बदलकर ठगी की घटना को अंजाम देता था. इसी प्रकार के ठगी में मामले में बेंगलुरु पुलिस ने इस आरोपी को गिरफ्तार कर बल्लारपुर पुलिस के हवाले किया. बल्लारपुर पुलिस जांच कर रही है.

सराफा दुकानदारों के साथ ऐसे करता था ठगी

आरोपी विशाल राजकुमार निलंगे का सराफा व्यापारियों को ठगने का तरीका अलग था. सबसे पहले वह चमचमाती लग्जरी गाड़ी से सराफा दुकान के सामने उतरता था. इसके बाद दुकान में जाकर खुद को इनकम टैक्स अधिकारी बताकर दुकानदार से अधिकारी के तौर पर कई सवाल पूछता, जिससे दुकानदार दबाव में आ जाता था.

आरोपी को पता था कि सराफा दुकानदार कहां फंस सकता है. दुकनदार भी उसे असली का अधिकारी समझने लगता था. इसके बाद आरोपी घर के लोगों के लिए सोने के गहने खरीदने की बात बोलकर लाखों के जेवरात खरीदता था. इसके बाद बिल भुगतान के नाम पर दुकानदार के खाते में RTGS करता था और अपने भुगतान होने का मैसेज दुकानदार को दिखा देता था.

'स्पेशल 26' फिल्म देख बना फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी, कई राज्यों के सराफा व्यवसाइयों को लगाया चूना

दुकानदार पहले से ही दबाव में होने की वजह से वो मैसेज देखकर उसे जाने देता था. इसके बाद जब दुकानदार खाता चेक करता था तो उसके खाते में रकम जमा ही नहीं होती थी.

पुलिस अधिकारी शैलेन्द्र ठाकरे ने बताया कि आरोपी ने MBA की पढ़ाई की है. उसे 'स्पेशल 26' फिल्म और यूट्यूब पर वीडियो देख व्यापारियों को ठगने का आइडिया आया.

क्या बोले ठगी के शिकार कारोबारी

बल्लारपुर के सराफा व्यवसायी गौरव खंडेलवाल ने बताया कि हमारे यहां एक अंजान व्यक्ति आया और उसने अपनी पहचान इनकम टैक्स अधिकारी के रूप में बताई. उन्होंने कई सवाल पूछे. देखकर लगा कि सच में इनकम टैक्स अधिकारी है. उसने गहने खरीदे और भुगतान ऑनलाइन करके चला गया, लेकिन पैसा अकाउंट में नहीं पहुंचा. 

ठगी का पता चलने के बाद बेंगलुरु, हैदराबाद में तलाशी की, पुलिस के संपर्क में रहे. उसी समय आरोपी ने बेंगलुरु के पास हुगड़ी में भी इसी प्रकार की घटना को अंजाम दिया. इसके बाद हुगड़ी पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद बल्लारपुर पुलिस ने बेंगलुरु जाकर आरोपी की कस्टडी ली. जांच में उसने बताया कि भंडारा, पुणे, हैदराबाद, दिल्ली, बेंगलुरु में भी उसने ठगी की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें