scorecardresearch
 

गुरुग्राम: बीजेपी नेता की हत्या में अपने ही निकले गुनहगार! पुलिस ने साले को किया गिरफ्तार

गुरुग्राम एसटीएफ पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में हत्यारोपी चमन गुर्जर ने खुलासा किया कि उसके जीजा यानी बीजेपी नेता सुखबीर खटाना ने बहन से 2008 में लव मैरिज की थी, इसी बात से वह गुस्से में था और रंजिश मानने लगा था. बीती एक सितंबर को सुखबीर एक शोरूम में खरीददारी करने आया था. मौका मिलते ही घेराबंदी कर ली और ताबड़तोड़ फायरिंग की.

X
गुरुग्राम पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.
गुरुग्राम पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.

बीजेपी नेता सुखबीर खटाना की हत्या के मामले का एसटीएफ ने खुलासा कर दिया है. इस सनसनीखेज घटना को अंजाम देने वाला कोई और नहीं, बल्कि खटाना का साला चमन गुर्जर निकला. आरोपी बहन के सुखबीर से लव मैरिज किए जाने से खफा था, इसलिए मौका मिलते ही उसने अन्य शूटर्स के साथ मिलकर हत्या कर दी. पुलिस को ये केस सुलझाने में 22 दिन लग गए. फिलहाल, आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

एसटीएफ पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में हत्यारोपी चमन गुर्जर ने खुलासा किया कि उसके जीजा यानी बीजेपी नेता सुखबीर खटाना ने बहन से 2008 में लव मैरिज की थी, इसी बात से वह गुस्से में था और रंजिश मानने लगा था. बीती एक सितंबर को सुखबीर गुरुग्राम के सदर बाजार में कपड़े के शोरूम में खरीददारी करने आया था. मौका मिलते ही उसने (चमन गुर्जर) अपने 4-5 अन्य शूटर्स के साथ घेराबंदी कर ली और ताबड़तोड़ फायरिंग की, जिसमें सुखबीर की मौत हो गई थी.

घटना के बाद आरोपी मौके से भाग निकला था. खटाना को करीब 8 से 10 गोलियां मारी गई थीं. हथियारबंद बदमाशों ने सुखबीर के चेहरे और सिर को टारगेट कर फायरिंग की थी. ये पूरी वारदात शोरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. फुटेज में सभी 5 हमलावर दिखाई दे रहे हैं.

कार से दोस्त के साथ शोरूम पहुंचे थे खटाना

सुखबीर खटाना अपने दोस्त राजेंद्र के साथ कार से गुरुद्वारा रोड स्थित कपड़े के शोरूम पहुंचे थे. उन्होंने शोरूम के पास अपनी कार खड़ी की और शॉपिंग करने के लिए अंदर चले गए. सुखबीर ने खरीदारी करने के बाद कार्ड के जरिए भुगतान किया. इसी बीच, चार-पांच हथियारबंद बदमाश शोरूम में घुस आए और सुखबीर पर अंधाधुंध गोलियां चला दीं. बताते चलें कि सुखबीर सिंह खटाना ने दो शादियां की थीं. दूसरी बीवी के भाई चमन के साथ किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था.

खटाना

गैंगेस्टर पपला गुर्जर का करीबी है हत्यारोपी चमन

बता दें कि आरोपी चमन गुर्जर का आपराधिक इतिहास रहा है. उसने राजस्थान पुलिस पर फायरिंग कर पुलिस चौकी से गैंगस्टर पपला गुर्जर को फरार करवाने की साजिश रची थी और पपला गुर्जर को फरार करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. एसटीएफ के मुताबिक, हत्यारोपी चमन गुर्जर गैंगस्टर पपला गुर्जर का करीबी है. ऐसे में एसटीएफ यह भी जानने में लगी है कि भाजपा नेता की हत्या में शूटर पपला गुर्जर गैंग का हाथ तो नहीं है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें