scorecardresearch
 

Jharkhand: अंकिता सिंह हत्याकांड में 112 पन्नों की चार्जशीट, पुलिस का दावा- आरोपियों को सजा दिलाने के लिए पर्याप्त सबूत

दुमका में हुए अंकिता सिंह हत्याकांड मामले में पुलिस ने 112 पन्नों की चार्जशीट न्यायालय में दाखिल कर दी है. पुलिस का कहना है कि आरोपियों को गंभीर सजा दिलाने के लिए पर्याप्त सबूत कोर्ट में पेश किए गए हैं. इस मामले में हमारी जांच अभी भी जारी है. रिपोर्ट कोर्ट में सौंप कर जल्द न्याय की गुहार लगाई गई है.

X
मृतक अंकिता सिंह और मुख्य आरोपी शाहरुख खान
मृतक अंकिता सिंह और मुख्य आरोपी शाहरुख खान

झारखंड के दुमका में हुये अंकिता सिहं हत्याकांड की चार्जशीट दुमका पुलिस ने न्यायालय में दायर कर दी है. 112 पेज के आरोप पत्र में पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ पुख्ता सबूत होने का दावा किया है. पुलिस का दावा है कि न्यायालय मे आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने में यह सबूत काफी हैं. हालांकि, अभी भी पुलिस की इस मामले में जांच जारी है.

दुमका के एसपी अंबर लकड़ा ने कहा है कि अंकिता सिंह हत्याकांड मामले मे पुलिस ने 112 पेज की चार्जशीट दुमका कोर्ट में दाखिल की है. एसपी ने कहा कि पुलिस को जांच में हत्याकांड के आरोपी शाहरुख खान और नईम अंसारी उर्फ छोटू के खिलाफ काफी सबूत मिले हैं जो सजा दिलाने के लिए काफी हैं.

पुलिस का कहना है कि हत्याकांड के आरोपियों के खिलाफ सभी टेक्निकल, केमिकल सबूत जुटाए गए हैं. करीब 20 लोगों के बयान भी चार्जशीट में हैं. जिसे कोर्ट को सौंप कर त्वरित न्याय की गुहार लगाई गयी है.

गौरतलब है कि, झारखंड के दुमका में 23 अगस्त को सुबह करीब 4 बजे शाहरुख हुसैन नाम के सिरफिरे आशिक ने घर मे सोयी नाबालिग लड़की अंकिता पर पेट्रोल डाल कर आग लगा दी थी. 90 फीसदी जली हुई हालत में अंकिता को रांची के रिम्स में भर्ती कराया गया था. जिसके बाद जिंदगी की जंग लड़ते-लड़ते अंकिता ने पांच दिन बाद 28 अगस्त को दुनिया को अलविदा कह दिया था.

मौत से पहले अंकिता ने खुद के साथ हुई घटना को लेकर बयान दर्ज करा दिया था. जिसमें शाहरुख और उसके दोस्त नईम पर आग लगाने का आरोप लगाया था. शाहरुख को अंकिता की मौत से पहले ही पुलिस ने गिरफ्त ने लिया था और नईम अंसारी को बाद में पुलिस ने पकड़ा था. अंकिता की मौत के मामले में जमकर विरोध प्रदर्शन हुए थे. अंकिता के परिवार सहित लोगों ने दोनों आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी देने की बात मांग करते हुए कैंडल मार्च निकाला था.

( रिपोर्ट - मृत्युन्जय पांडे )

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें