scorecardresearch
 

दो मासूमों के लिए दिल्ली पुलिस बनी रक्षक, माता-पिता को ढूंढकर पहुंचाया घर, देखें VIDEO

दिल्ली के सागरपुर थाने के एसएचओ का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें एसएचओ को दोनों बच्चे न तो अपने घर का पता बता पा रहे हैं और न ही अपने पिता का नाम बता पा रहे हैं. पुलिस ने करीब तीन घंटे की मेहनत के बाद इन बच्चों के माता-पिता को ढूंढ निकाला और घर पहुंचा दिया.

X
 दिल्ली पुलिस बच्चों के लिए बनी रक्षक
दिल्ली पुलिस बच्चों के लिए बनी रक्षक

दिल्ली के सागरपुर थाने के एसएचओ का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें एसएचओ दो मासूम बच्चों से उनके घर का पता और उनके पिता का नाम पूछते हुए नजर आ रहे हैं. इसमें एक बच्चा सफेद टी-शर्ट में है. उसकी उम्र महज 3 साल है. दूसरे बच्चे की उम्र करीब साढ़े 4 साल है.

दोनों बच्चे न तो अपने घर का पता बता पा रहे हैं और न ही अपने पिता का नाम बता पा रहे हैं. पुलिस ने करीब 3 घंटे की मेहनत के बाद इन बच्चों के माता-पिता को ढूंढ निकाला और उन्हें घर पहुंचा दिया. यह वीडियो 27 अक्टूबर की दोपहर का बताया जा रहा है.

सड़क पर भटकते मिले थे दोनों बच्चे 

दरअसल, गुरुवार की दोपहर थाने के एसएचओ कृष्ण बल्लभ झा मीटिंग अटेंड थाने पहुंचे थे. उन्होंने वहां देखा कि थाने में दो मासूम बच्चे हैं. थाने के एक सिपाही ने उन्हें बताया कि दोनों बच्चे उन्हें सड़क पर अकेले भटकते हुए मिले हैं. इस वजह से वह दोनों को थाने ले आए हैं.

बच्चे अपने घर का पता नहीं बता पाए, तो एसएचओ कृष्ण बल्लभ झा ने अपने पूरे स्टाफ और पीसीआर को बुलाया. सभी को बच्चों के वीडियो और उनकी फोटो दी. आदेश दिया कि तुरंत बच्चों के माता-पिता का पता लगाएं.

पुलिस करीब दो से तीन घंटे की मेहनत के बाद बच्चों के माता-पिता तक पहुंच गई. जानकारी के मुताबिक, दोनों बच्चे पड़ोसी हैं और घर से खेलने के लिए बाहर गए थे. खेलते-खेलते घर से एक किलोमीटर दूर निकल गए और रास्ता भटक गए थे. तब इन पर पुलिस की नजर पड़ी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें