scorecardresearch
 

बिहार: बेगूसराय फायरिंग पर एक्शन, 7 पुलिसकर्मी सस्पेंड, 18 घंटे बाद भी बदमाशों का सुराग नहीं

बिहार के बेगूसराय शहर को मंगलवार की शाम साढ़े पांच बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने दहला दिया. नेशनल हाइवे 28 पर निकले इन बदमाशों ने एक के बाद एक कई जगहों पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई. कुल 10 लोगों को इन बदमाशों ने गोली मारी, जिसमें से एक व्यक्ति की मौत हो गई है. घटना के बाद बिहार में राजनीति गर्मा गई है.

X
1:32

बिहार के बेगूसराय की सड़कों पर हुए "खूनी खेल" में लापरवाही बरतने के आरोप में सात पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. अभी तक दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है. इनकी धर पकड़ के लिए तीन टीमें बनाई गई हैं, जो कई जगहों पर लगातार छापेमारी कर रही हैं. 

इस बीच केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह दिल्ली से पटना पहुंच चुके हैं. यहां से वह बेगूसराय जाएंगे. पटना पहुंचते हैं कि गिरिराज सिंह ने बिहार सरकार पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा, “बेगूसराय की घटना बिहार के लिए बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. जब से महागठबंधन की सरकार बिहार में बनी है, लॉ एंड ऑर्डर की व्यवस्था पूरी बिगड़ गई है.” 

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पटना पहुंचकर कहा,

गिरिराज सिंह ने कहा, “राजधानी में ही नीतीश कुमार की पुलिस अपने थाने में ही सुरक्षित नहीं है. थाने में घुसकर पुलिस वाले को मारा जा रहा है. मुख्यमंत्री को स्वीकार करना होगा कि जंगल राज आ गया है, जनता राज नहीं है। आज तक बिहार में इस तरीके की घटना नहीं हुई है.” 

सड़क चलते लोगों पर की गई गोलीबारी
बिहार के बेगूसराय शहर को मंगलवार की शाम साढ़े पांच बजे एक बाइक पर सवार दो बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलीबारी की. नेशनल हाइवे 28 पर निकले इन बदमाशों ने एक के बाद एक कई जगहों पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई. कुल 10 लोगों को इन बदमाशों ने गोली मारी, जिनमें से एक चंदन कुमार नाम के शख्स की मौत हो गई. 

सीसीटीवी में यह पूरी घटना कैद हो गई है. एक के बाद एक करके नौ घायल लोगों को बेगूसराय के सिविल और निजी अस्पतालों में इलाज के लिए ले जाया गया. वारदात के बाद पूरे शहर में अफरातफरी थी. घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस के हाथ पैर फूल गए.

घायलों को इलाज के लिए बेगूसराय के सरकारी और निजी अस्पताल पहुंचाया गया.

चार थाना क्षेत्रों से गुजरे बदमाश, पुलिस बनी रही तमाशबीन
फुलवरिया, बछवाड़ा, तेघडा और चकिया थाना इलाकों मे फायरिंग की एक के बाद एक खबर आती रही. चार थाना क्षेत्रों से बदमाश गुजरे और उन्होंने 40 मिनट तक 30 किमी के दायरे में गोलीबारी की. मगर, पुलिस की नाकामी के चलते वे आराम से फरार हो गए. हाल के महीनों में पहली बार इस तरह सरेआम एक के बाद एक 10 लोगों को गोली मारी गई.

बेगूसराय समेत 6 जिलों में नाकेबंदी
इस घटना के बाद पुलिस ने पूरे शहर को सील कर दिया. एसपी से लेकर आईजी तक सड़कों पर आ गए हैं. पास के जिलों को भी अलर्ट किया गया है. पटना, समस्तीपुर, खगडिया, नालंदा, लखीसराय जिलों में नाकेबंदी की गई है. पुलिस ने ताबड़तोड़ छापे भी मारे, लेकिन बाइक सवार इन बदमाशों तक पुलिस नहीं पहुंच पाई है.

गोलीबारी की घटना के बाद रात से पुलिस ने कई जगहों पर नाकेबंदी कर रखी है.

हर हर महादेव चौक पर एनएच 31 किया जाम
बेगूसराय में बढ़ते अपराध के खिलाफ भाजपा ने बुधवार को बेगूसराय बंद का आह्वान किया है. इसके तहत भाजपा जिला अध्यक्ष राज किशोर सिंह के नेतृत्व में हर हर महादेव चौक पर एनएच 31 में जाम लगा दिया गया है. इसकी वजह से एनएच 31 पर वाहनों की कतार लग गई है.

भाजपा नेताओं ने कहा कि जबसे तेजस्वी की गोद में नीतीश कुमार बैठे हैं, पूरे बिहार में अपराधी बेलगाम हैं. बाइक सवार बदमाशों ने इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया है. पुलिस न तो कोई कार्रवाई कर पाई है और न ही बदमाशों को अभी तक गिरफ्तार कर पाई है. इसके विरोध में प्रदर्शन किया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें