scorecardresearch
 

बरेलीः झूठी निकली छात्र के अपहरण की कहानी, खुद चलकर दोस्त से मिलने पहुंचा था दूसरे स्कूल

यूपी के बरेली में बच्चे के अपहरण की सूचना से हड़कंप मच गया. पुलिस अधिकारियों ने जब जांच पड़ताल की तो सामने आया कि बच्चे ने खुद ही इस तरह की सूचना अपने परिजन को दी थी. पुलिस ने कहा कि बच्चा खुद चलकर दूसरे स्कूल तक पहुंचा था.

X
घटना की जानकारी देते एसएसपी.
घटना की जानकारी देते एसएसपी.

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक स्कूल के छात्र ने खुद के अपहरण की ऐसी कहानी रच डाली कि पूरा प्रशासन हिल गया. मामला बढ़ा तो कैंट विधायक और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता कोतवाली जा पहुंचे. दोपहर को यह मामला तब सामने आया, जब पुलिस अधिकारियों ने स्कूल के गेट पर लगे CCTV को चेक किया. इसमें पता चला कि छात्र स्कूल आया, लेकिन कुछ देर टहलने के बाद लौट गया.

पुलिस के अनुसार, खुद के अपहरण की कहानी रचने वाले छात्र ने कुछ दूर जाकर अपने परिजन को खबर दी कि उसका अपहरण करने की कोशिश की गई. इस मामले में एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने कहा कि यह घटना पूरी तरह अफवाह साबित हुई. उन्होंने कहा कि सीसीटीवी फुटेज निकलवाए गए हैं, इससे यह बात सामने आई है कि बच्चा स्वयं एक दोस्त के साथ दूसरे गेट से बाहर निकलकर आगे की ओर जा रहा था. वह किसी दोस्त से मिलने एक दूसरे स्कूल तक पहुंचा था.

मामले का वीडियो फुटेज सामने आने से हुआ खुलासा

वीडियो फुटेज में किसी तरह की कोई अपहरण की बात सामने नहीं आई है. एसएसपी ने कहा कि शहर में जानबूझकर इस तरह की घटनाएं फैलाई जा रही हैं. बरेली जनपद में अपहरण की कोई घटना नहीं हुई है. जो तहरीर मिली है, उस आधार पर जांच हुई है. 

एसएसपी ने कहा कि हम लगातार पैरेंट्स को समझाने का प्रयास कर रहे हैं. बाकी क्षेत्रों में स्कूलों में जाकर लोगों को सूचना दे रहे हैं कि अफवाह में ना आएं. जब तक आप स्वयं उस घटना को न जानते हों. झूठी अफवाह पर कोई ध्यान न दें. उन्होंने कहा कि शहर में कई लोग ऐसे हैं, जो इस तरह की झूठी अफवाह फैलाकर भ्रम फैला रहे हैं, ऐसी अफवाहों से दूर रहें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें