scorecardresearch
 

अर्पिता मुखर्जी के चौथे फ्लैट पर रेड, छापेमारी में अबतक बरामद हो चुका है 50 करोड़ से ज्यादा कैश

बंगाल के शिक्षा भर्ती घोटाले में आरोपी अर्पिता मुखर्जी के एक और ठिकाने पर ईडी ने छापा मारा है. फिलहाल इससे क्या बरामद हुआ है यह साफ नहीं है. इससे पहले जो छापेमारी हुई, उसमें 50 करोड़ से ज्यादा रुपये बरामद हुए. कई किलो सोना भी मिला था. अर्पिता मुखर्जी बंगाल के शिक्षा मंत्री रहे पार्थ चटर्जी की करीबी हैं.

X
अर्पिता मुखर्जी पार्थ चटर्जी की करीबी हैं जो बंगाल के मंत्री थे
अर्पिता मुखर्जी पार्थ चटर्जी की करीबी हैं जो बंगाल के मंत्री थे
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अर्पिता मुखर्जी का यह फ्लैट कोलकाता एयरपोर्ट के पास है
  • फ्लैट का मेंटेनेंस चार्ज का काफी रुपया बकाया है

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अर्पिता मुखर्जी (arpita Mukherjee) के एक और फ्लैट पर छापा मारा है. ईडी इससे पहले अर्पिता के तीन घरों पर छापे मार चुकी हैं, जिनमें से करीब 50 करोड़ रुपये मिला था. इसके अलावा कई किलो सोना भी वहां बरामद हुआ था.

अब ईडी को अर्पिता मुखर्जी के एक और फ्लैट का पता चला है. यह फ्लैट कोलकाता एयरपोर्ट के पास चिनार पार्क में है. यहां रॉयल रेजिडेंट बिल्डिंग के चौथे फ्लोर पर 404 नंबर फ्लैट अर्पिता मुखर्जी के नाम पर है.

बिल्डिंग के अकाउंटेंट के मुताबिक, इस फ्लैट का काफी रुपया मेंटेनेंस चार्ज के तौर पर अर्पिता के नाम बकाया है. अकाउंटेंट के मुताबिक अर्पिता को कई बार मेल करने के बाद भी उनकी ओर से कोई जवाब नहीं मिला है.

ईडी ने 22 जुलाई को डायमंड सिटी में मौजूद अर्पिता के फ्लैट पर छापा मारा था. इसके बाद 27 जुलाई को दो फ्लैट्स पर छापा मारा गया था. अब आज चिनार पार्क में मौजूद एक फ्लैट पर छापा मारा गया है.

शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तार हुए हैं पार्थ और अर्पिता

अर्पिता मुखर्जी बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी हैं. शिक्षा भर्ती घोटाले में जब ईडी ने छापेमारी की तो अर्पिता मुखर्जी भी रडार पर आईं. उनके ठिकानों पर भी छापे पड़े. अर्पिता मुखर्जी के घर से ईडी को बड़ी संख्या में कैश मिला था. ईडी के मुताबिक, पूछताछ में अर्पिता ने कबूला था कि यह पैसा मंत्री पार्थ चटर्जी का है.

कल बुधवार को ईडी टीम को 27 करोड़ 90 लाख कैश, 6 किलो सोना (आधा-आधा किलो के सोने के 6 कंगन, 3 किलो सोने की बिस्किट), सोने का पेन आदि मिला. इस फ्लैट में कहां-कहां पैसे रखे गए थे ये जानकर और देखकर आप हैरान रह जाएंगे. बेडरूम में, ड्रॉइंग रूम में और टॉयलेट में तो सबसे ज्यादा नोट ठूंसकर रखे गए थे. वॉशरूम के बेसिन के नीचे लॉकर बनाया गया था जिसमें काली कमाई का पैसा रखा था.

ईडी ने जब बुधवार को रेड डाली तो नोटों की बरामदगी से उसकी भी आंखें फटी की फटी रह गईं थीं. पूरी रात नोटों की गिनती चली थी. नोट गिनने के लिए मशीनें मंगवाई गई थीं. ट्रक में 20 बक्से मंगवाए गए. सुबह 4 बजे गिनती खत्म हुई तो ये रकम 27 करोड़ 90 लाख तक जा पहुंची. फिर ट्रक में भरकर इन पैसों को भिजवाया गया.

पार्थ चटर्जी अब मंत्री नहीं

पार्थ चटर्जी पर आखिरकार आज ममता सरकार ने भी एक्शन लिया है. उनको मंत्रीपद से हटा दिया गया है. वह फिलहाल ममता सरकार में उद्योग मंत्री थे. अन्य विभागों की जिम्मेदारियों से भी उनको मुक्त किया गया है. पार्थ पर एक्शन के बाद ममता बनर्जी का बयान भी आया. इसमें ममता ने कहा कि TMC सख्त पार्टी है, इसलिए पार्थ पर एक्शन हुआ.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें