scorecardresearch
 

मौत से पहले सुशांत सिंह राजपूत ने गूगल पर सर्च की थीं ये तीन बातें

अगर मुंबई पुलिस की मानें तो पिछले कुछ वक्त से सुशांत सिंह राजपूत पांच अलग-अलग डॉक्टरों के संपर्क में थे. इन्हीं डॉक्टरों के पास सुशांत का इलाज चल रहा था. इलाज के सारे पेपर सुशांत के घर से ही बरामद हो गए हैं.

सुशांत के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था (फाइल फोटो) सुशांत के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था (फाइल फोटो)

  • गूगल पर बाइपोलर डिसऑर्डर, स्किज़ोफ्रेनिया करते थे सर्च
  • मौत से पहले पेनलेस डेथ सर्च कर रहे थे सुशांत सिंह राजपूत

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में पहली बार मुंबई पुलिस ने सामने आकर मुंह खोला है. अब सवाल उठता है कि वो गूगल पर पेनलेस डेथ के अलावा जिन दो बीमारियों के बारे सर्च कर रहे थे, आखिर वो कौन सी बीमारी हैं. इससे क्या होता है. सुशांत इन बीमारियों के बारे में गूगल पर क्यों सर्च कर रहे थे. और वो पांच डॉक्टर कौन हैं, जिनसे सुशांत अलग-अलग वक्त में इलाज करा रहे थे.

अगर मुंबई पुलिस की मानें तो पिछले कुछ वक्त से सुशांत सिंह राजपूत पांच अलग-अलग डॉक्टरों के संपर्क में थे. इन्हीं डॉक्टरों के पास सुशांत का इलाज चल रहा था. इलाज के सारे पेपर सुशांत के घर से ही बरामद हो गए हैं. इसके बाद मुंबई पुलिस ने उन डॉक्टरों से लंबी पूछताछ की है.

ये ज़रूर पढ़ेंः सुशांत केस की जांच को लेकर दो राज्यों की पुलिस आमने-सामने, क्या है कानून

अब आइए समझते हैं कि मौत से पहले सुशांत जिन बीमारियों के बारे में गूगल पर सर्च कर रहे थे, वो हैं क्या. मुंबई पुलिस कमिश्नर के मुताबिक सुशांत ने अपने अलावा सबसे ज़्यादा तीन चीज़ें गूगल पर सर्च की थी. वो हैं बाइपोलर डिसऑर्डर, स्किज़ोफ्रेनिया और पेनलेस डेथ.

बाइपोलर डिसऑर्डर

इसके तहत इंसान का मूड बहुत जल्दी जल्दी बदलता है. वो अचानक उदास हो जाता है या बहुत ज़्यादा उत्तेजित. यानी पल-पल में उसकी सोच बदलती रहती है.

स्किज़ोफ्रेनिया

इसके तहत इंसान अपने सोचने समझने की शक्ति, महसूस करने की शक्ति और अपने बर्ताव पर क़ाबू नहीं रख पाता. ऐसे में उसका बर्ताव बदला हुआ नजर आने लगता है.

पेनलेस डेथ

ये तो आप लोग समझ ही गए होंगे. पेनलेस डेथ यानी मौत के वो तरीके जिसमें दर्द महसूस ना हो.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

मुंबई पुलिस के मुताबिक खुद सुशांत के घरवालों ने 16 जून को जो बयान दर्ज कराए हैं, उसमें ये बात कुबूल की कि सुशांत का इलाज चल रहा था और वो काम को लेकर भी परेशान थे. लेकिन सुशांत इतना बड़ा कदम उठा लेंगे, ये किसी ने सोचा नहीं था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें