scorecardresearch
 

इन 10 दहशतगर्दों के नाम आतंकियों की लिस्ट में शामिल, पाकिस्तान में बैठकर रचते हैं खुफिया साजिश

गृह मंत्रालय ने 10 दहशतगर्दों के नाम आतंकियों की लिस्ट में शामिल किए हैं. इनमें हिजबुल मुजाहिदीन से लेकर लश्कर-ए-तैयबा तक के खूंखार आतंकी शामिल हैं. ये आतंकी पाकिस्तान में रहकर जम्मू-कश्मीर के युवाओं का ब्रैन वॉश करते हैं और उनके आतंकी संगठन में शामिल होने के लिए उकसाते हैं.

X
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

गृह मंत्रालय ने UAPA कानून के तहत 10 दहशतगर्दों के नाम आतंकियों की सूची में शामिल कर लिए हैं. इनमें से 5 हिजबुल मुजाहिदीन, एक लश्कर-ए-तैयबा, दो जम्मू-कश्मीर गजनवी फोर्स, एक जम्मू-कश्मीर इस्लामिक फ्रंट और एक तहरीक-उल-मुजाहिदीन से जुड़ा बताया जा रहा है.

जिन 10 आतंकियों को लिस्ट में शामिल किया गया है, उनके नाम इम्तियाज कुंडू, शौकत अहमद शेख, बासित अहमद रेशी, हबीब उल मलिक, बशीर अहमद पीर, इरशाद अहमद इदरीश, रफीक नाई सुल्तान, जफर इकबाल सलीम, बिलाल अहमद बेग उर्फ बाबर, 

1. सोपोर के क्राल्टांग का रहने वाला इम्तियाज कुंडू इस वक्त पाकिस्तान में है, जो हिजबुल मुजाहिदीन के लिए काम करता है. कुंडू आतंकियों के लिए पैसों की व्यवस्था करने का काम करता है. इसके लिए वह हथियार और ड्रग्स की तस्करी का काम भी करता है. सुरक्षाबलों और पुलिसकर्मियों पर हुए कई हमलों के दौरान समन्वय बनाने का काम कुंडू ने किया है. कुंडू युवाओं का ब्रैन वॉश कर आतंकी संगठन में उनकी भर्ती भी करता है.

2. शौकत अहमद शेख वर्तमान में पाकिस्तान में है और आतंकी हिजबुल के चीफ लॉन्चिंग कमांडर के रूप में काम कर रहा है. शौकत अहमद शेख की जम्मू-कश्मीर में आतंकी हिंसा फैलाने में अहम भूमिका है. शौकत का उत्तरी कश्मीर में गहरा नेटवर्क है. वह आतंकियों की भर्ती में भी शामिल है.

3. हिजबुल के लिए काम करने वाला बासित अहमद रेशी भी इस वक्त पाकिस्तान में है. बासित जम्मू-कश्मीर में हुई टारगेट किलिंग की घटनाओं में शामिल रहा है. उसने 18 अगस्त 2015 को सोपोर के ताजजौर शरीफ पेठ अस्तान में दरगाह बाबा अली रैना की पुलिस चौकी पर आतंकी हमले की योजना बनाकर उसे अंजाम दिया था. इसमें एक एक पुलिस कर्मी और एक नागरिक मारा गया था. 

4. पाकिस्तान के कसूर में रहने वाले हबीब उल मलिक को भी इस लिस्ट में शामिल किया गया है. यह खूंखार आतंकी संगठन द रेजिस्टेंट फ्रंट (TRF) के लिए काम करता है. 
हबीबुल्लाह मलिक उन आतंकियों का प्रमुख हैंडलर है, जिन्होंने पुंछ जिले के भाटा धुरियन में भारतीय सैनिकों पर हमला किया था. हबीबुल्लाह मलिक जम्मू-कश्मीर स्थित में आतंकियों के लिए जम्मू क्षेत्र में हथियारों और संचार प्रणालियों को ड्रोन से गिराने में शामिल रहा है.

5. पांचवे आतंकी का नाम बशीर अहमद पीर है. यह पाकिस्तान के रावलपिंडी का रहने वाला है. बशीर हिजबुल के लिए को रसद मुहैया कराता है. ये विशेष रूप से कुपवाड़ा और जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ के लिए और जम्मू और कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों का समन्वय करता है. बशीर हिजबुल और लश्कर-ए-तैयबा के लिए ऑनलाइन प्रचार अभियान में शामिल रहा है.

6. इस लिस्ट में एक नाम इरशाद अहमद उर्फ इदरीश का भी है. इदरीश इस समय पाकिस्तान के इस्लामाबाद में है. इरशाद हिजबुल की शूरा कमेटी का भी सदस्य है. यह आतंकवादी संगठन के लिए प्रशिक्षण और लॉन्चिंग से जुड़ी गतिविधियों में शामिल रहता है.

7. पाकिस्तान में रह रहा रफीक नाई उर्फ सुल्तान तरहीक-उल-मुजाहिदीन और जम्मू कश्मीर गजनवी फोर्स का लॉन्चिंग कमांडर है. सुल्तान पुंछ-राजौरी सेक्टर में नशीले पदार्थों और हथियारों की तस्करी और आतंकवादियों की घुसपैठ की निगरानी में शामिल है. 

8. जफर इकबाल उर्फ सलीम भी इस समय पाकिस्तान में ही है. सलीम हरकत-उल-जिहाद-ए-इस्लामी के साथ ही जम्मू कश्मीर गजनवी फोर्स का ऑपरेशनल कमांडर है. सलीम नशीले पदार्थों और हथियारों की तस्करी की निगरानी और जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ कराने की घटनाओं में शामिल है.

9. इनमें एक नाम जम्मू-कश्मीर इस्लामिक फ्रंट (JKIF) चीफ बिलाल अहमद बेग उर्फ बाबर का भी शामिल है. बाबर इस समय रवालपिंडी में है. बिलाल जम्मू-कश्मीर में हथियारों और गोला-बारूद की तस्करी में शामिल है. बिलाल अहमद बेग के कुख्यात अंडरवर्ल्ड संस्थाओं के साथ घनिष्ठ संपर्क हैं. वह विदेश से कश्मीर में पैसे भेजने का काम करता है.

10. शेख जमील-उर-रहमान उर्फ शेख साहब लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, हिजबुल-मुजाहिदीन समेत कई आतंकी संगठनों का सदस्य है. जमील पाकिस्तान में बनने वाले विस्फोटकों की तस्करी और पाकिस्तान से भारत में आतंकवादी कैडरों की आवाजाही से जुड़ी घटनाओं में शामिल रहा है. जमील मेंढर, पुंछ सहित जम्मू-कश्मीर के धार्मिक स्थलों पर ग्रेनेड हमले की साजिश में शामिल रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें