scorecardresearch
 

कुत्ते से थी एलर्जी, सास-ससुर ने घर से हटाने से किया इनकार तो बहू और पोती ने कर ली खुदकुशी

बेंगलुरु में मां और बेटी ने फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने बताया कि मृतका को सांस की बीमारी थी. डॉक्टर ने उसे कुत्तों से दूर रहने की सलाह दी थी. जिसकी वजह से उसने अपने पति और सास-ससुर से पालतू कुत्ते को घर से बाहर निकालने की कह रही थी.

X
(प्रतीकात्मक फोटो)
(प्रतीकात्मक फोटो)

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में मां और बेटी ने फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले की जांच शुरू की. इस दौरान पुलिस को पता चला कि पालतू कुत्ते को लेकर घर में विवाद हुआ था. महिला को कुत्ते से एलर्जी थी. जिसके बाद उसने पति और सास-ससुर से कुत्ते को घर से हटाने के लिए कहा था, पर किसी ने नहीं सुनी. इससे दुखी होकर उसने अपनी 13 की बेटी के साथ खुदकुशी कर ली.

महिला हाउसवाइफ थी और उसकी बेटी प्राइवेट स्कूल के 6वीं कक्षा की छात्रा थी. पुलिस ने महिला के पति, सास और ससुर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है.

जांच के दौरान पुलिस यह पता चला है कि महिला को सांस की बीमारी थी और डॉक्टर ने उसे कुत्तों से दूर रहने की सलाह दी थी. मृतक महिला ने कई बार अपने पति और सास-ससुर से कुत्ते को हटाने के लिए गुजारिश की थी, लेकिन घर से कुत्ते को नहीं हटाया गया. जिसकी वजह से घर पर बार-बार विवाद हो रहा था.  

मृतक महिला के पिता ने बेटी के ससुरालवालों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है. शिकातय में कहा गया कि उनकी बेटी को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी. लेकिन उसके ससुरालवाले उसकी सुनने के लिए तैयार नहीं थे. 

इसी बीच वह बेटी के साथ अपने कमरे गई और जब काफी देर बाहर नहीं निकली, तो दरवाजा तोड़ा गया. फिर पता चला कि उसने अपनी बेटी के साथ खुदकुशी कर ली. इस घटना के बाद से पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया है. पुलिस ने मृतका के ससुरालवालों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें