scorecardresearch
 

जिसने पत्नी को मरवाने के लिए शूटर्स को 10 लाख की सुपारी दी, उस पति की लाश मिली!

फौजी शख्स ने शूटर्स से वादा किया था कि अगर हमले में उसकी पत्नी बच भी गई तब भी वो उन्हें आधी रकम देगा. यानी हर हाल में वो पत्नी पर अटैक करवाना चाहता था. एक दिन शूटर्स ने उसकी पत्नी पर घात लगाकर हमला कर दिया. उस वक्त महिला अपनी बेटी के साथ थी. शूटर्स ने उसके ऊपर एक के बाद एक चार गोलियां चलाईं.

X
शूटर्स ने महिला पर कई राउंड फायर किए (सांकेतिक फोटो- गेटी)
शूटर्स ने महिला पर कई राउंड फायर किए (सांकेतिक फोटो- गेटी)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शूटर्स ने चार राउंड फायर किए
  • बाद में फौजी पति की लाश मिली

एक शख्स ने अपनी पत्नी को रास्ते से हटाने के लिए खतरनाक साजिश रची. वो प्रेमिका के साथ शिफ्ट होना चाहता था. ऐसे में उसने पत्नी को मारने के लिए 10 लाख रुपये में चार शूटर्स हायर किए. शूटर्स ने उसकी पत्नी को गोली भी मारी लेकिन वो बच गई. इसके बाद क्या हुआ आइए जानते हैं.

दरअसल, ये मामला इंडोनेशिया का है, जहां एक शख्स ने प्रेमिका के लिए अपनी पत्नी को खत्म करने की योजना बनाई. वो शख्स एक सैनिक था. उसने 10 लाख रुपये में चार शूटर्स को अपनी पत्नी की सुपारी दे दी. सुपारी के लिए पैसे उसने बहाने से अपनी ही सास से लिए थे. 

'द मिरर' के मुताबिक, शख्स ने शूटर्स से वादा किया था कि अगर हमले में पत्नी बच भी गई तब भी वो उन्हें आधी रकम देगा. यानी हर हाल में वो पत्नी पर अटैक करवाना चाहता था. 

शूटर्स ने एक के बाद एक चार गोलियां चलाईं

और एक दिन वो समय आ गया, जब शूटर्स ने उसकी पत्नी पर घात लगाकर हमला किया. उस वक्त महिला अपनी बेटी के साथ थी. शूटर्स ने उसके ऊपर एक के बाद एक चार गोलियां चलाईं. गोली लगने के बाद महिला घायल हो गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. गनीमत रही कि उसकी जान बच गई. 

ये वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई और पुलिस इसी के आधार पर जांच में जुट गई. बाद में चारों शूटर्स पकड़ लिए गए. उनके बयानों के आधार पर महिला के पति की तलाश शुरू हुई, लेकिन वो नहीं मिला. 

कुछ हफ्ते बाद पुलिस को उसकी लाश मिली. बताया गया कि पकड़े के जाने के डर से उसने जहर खाकर अपनी जान दे दी. वहीं, शूटर्स में से एक ने पुलिस को बताया कि वह शख्स उनपर गुस्सा हो गया था क्योंकि हम उसकी पत्नी को मारने में विफल रहे थे. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें