scorecardresearch
 

हत्यारों का 'जॉनी' दुश्मन...कुत्ते ने ऐसे सुलझाई मर्डर मिस्ट्री, यूपी पुलिस ने सैल्यूट कर किया सम्मानित

यूपी के कासगंज में एक खोजी कुत्ते ने मर्डर मिस्ट्री का खुलासा किया है. उसकी सतर्कता के एसपी भी मुरीद हो गए. एसपी ने कुत्ते को सैल्यूट कर सम्मानित भी किया. एसपी ने बताया कि हत्यारों ने युवक का ट्रैक्टर और आटा चक्की लूटकर उसके शव को छुपा दिया था. जिनका कोई सुराग नहीं था. जॉनी की मदद से ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा हुआ है.

X
खोजी कुत्ते ने किया ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा
खोजी कुत्ते ने किया ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा

श्वान (कुत्ते) को इंसान का सबसे अच्छा दोस्त कहते हैं. यही श्वान कई मोर्चों पर देश की रक्षा भी करते हैं. इंसान का दोस्त (श्वान) देश और कानून के दुश्मनों का सबसे बड़ा दुश्मन भी होता है. ये बात साबित की है कासगंज पुलिस के डॉग स्क्वायड के श्वान जॉनी ने. जॉनी ने एक ब्लाइंड केस का खुलासा किया है.

गौरतलब है कि थाना गंजडुंडवारा क्षेत्र के ढकरई-धुबियाई मार्ग पर 11 अक्टूबर को एक लाश मिली थी. जिसकी शिनाख्त नूरपुर गांव निवासी दुर्वेश कुमार के रूप में हुई थी. इसके बाद दुर्वेश के पिता ने केस दर्ज कराया था. इस केस में पुलिस की कई टीमें लगी हुई थीं लेकिन हत्यारों का कोई सुराग नहीं लग पा रहा था. इसके बाद पुलिस ने डॉग स्क्वायड से संपर्क किया और जॉनी की मदद ली.

हत्यारों के गांव पहुंचा जॉनी
पुलिस की टीम के साथ जॉनी भी घटनास्थल पर पहुंचा. नाबालिग के गले में बंधी रस्सी और उसके शव की गंध से जॉनी हत्यारों के गांव पहुंच गया. फिर क्या था पुलिस को वो सुराग मिल गया जिसकी तलाश थी. जांच और पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपियों को धर दबोचा.

एसपी ने सैल्यूट कर सम्मानित किया
एसपी ने बताया कि हत्यारों ने युवक का ट्रैक्टर और आटा चक्की लूटकर उसके शव को छुपा दिया था. हत्यारों का कोई सुराग नहीं था. जॉनी की मदद से ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा हुआ है. इतना ही नहीं जॉनी की मदद से 22 किलोमीटर दूर खड़ी लूटी हुई ट्रैक्टर-ट्रॉली भी बरामद कर ली गई है. जॉनी की सतर्कता को देखते हुए एसपी ने उसे सैल्यूट कर सम्मानित किया.

आरोपियों का कबूलनामा
गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान आकाश चौहान पुत्र सतेंद्र निवासी ढकराई, धीरेंद्र पुत्र रविंद्र निवासी ढकरई और राहुल चौहान पुत्र राजेंद्र निवासी नौरी थाना सिढपुरा के रूप में हुई है. आरोपियों ने बताया कि उन्होंने ढकरई व धुबियाई मार्ग पर ट्रैक्टर व आटा चक्की के साथ दुर्वेश को पकड़ा था. वहां से आगे ले जाकर दुर्वेश की गला घोटकर हत्या कर दी थी. उसकी लाश को सड़क के किनारे बाजरे के खेत में छुपा दिया था. इसके बाद ट्रैक्टर व आटा चक्की लूटकर ले गए थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें