scorecardresearch
 

'मुझे मेरे कर्मों की सजा जरूर मिलेगी', उदयपुर में फेवीक्विक डालकर डबल मर्डर को अंजाम देने वाला तांत्रिक बोला

उदयपुर की गोगुंदा का ये पूरा मामला है. यहां मजावद गांव से लगे जंगली इलाके में दो शव मिले थे. मरने वालों में एक पुरुष था और दूसरी महिला. दोनों के जिस्म लहुलुहान थे. वे दोनों ही अर्धनग्न जैसी अवस्था में थे. पुलिस ने इस मामले में इलाके के तांत्रिक भालेश कुमार को गिरफ्तार किया है.

X
मृतक राहुल मीणा-सोनू और आरोपी तांत्रिक भालेश कुमार
मृतक राहुल मीणा-सोनू और आरोपी तांत्रिक भालेश कुमार

राजस्थान के उदयपुर में फेवीक्विक डालकर दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाला तांत्रिक भालेश कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. तांत्रिक भालेश कुमार ने दावा किया है कि उससे युवक-युवती वशीकरण का मंत्र मांगने के लिए ब्लैकमेल कर रहे थे, इसलिए उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया. इतना ही नहीं भालेश कुमार ने कहा, 'मुझे मेरे कर्मों की सजा जरूर मिलेगी.'

भालेश कुमार को मंगलवार को पुलिस हॉस्पिटल लेकर आई. यहां मौजूद स्थानीय लोगों ने जब उससे सवाल किया कि उसने ऐसा क्यों किया? तो भालेश ने कहा कि उससे बहुत गलत हुआ. उसे इसकी सजा जरूर मिलनी चाहिए. 
 
ब्लैकमेल कर रहे थे युवक-युवती

तांत्रिक भालेश जोशी स्थानीय लोगों से कहता नजर आया कि आप सब मुझे बहुत अच्छे से जानते हैं, मैं लोगों की पीड़ा दूर करता था. लेकिन भगवान ने मेरे साथ ऐसा क्यों करवा दिया? यह मुझे भी नहीं पता है. इसकी सजा मुझे जरूर मिलेगी. मृतक युवक-युवती वशीकरण का मंत्र मांग कर मोटी कमाई करना चाहते थे, जिस कारण दोनों लगातार वशीकरण का मंत्र मांगने के लिए मुझे ब्लैकमेल कर रहे थे, लेकिन उन्हें मैंने यह वशीकरण का मंत्र नहीं दिया.

क्या है पूरा मामला? 

उदयपुर की गोगुंदा का ये पूरा मामला है. यहां मजावद गांव से लगे जंगली इलाके में दो शव मिले थे. मरने वालों में एक पुरुष था और दूसरी महिला. दोनों के जिस्म लहुलुहान थे. वे दोनों ही अर्धनग्न जैसी अवस्था में थे. ऐसा लग रहा था कि कातिलों ने उनके जिस्म को बुरी तरह से जख्मी किया था. यहां तक कि उन दोनों के प्राइवेट पार्ट भी जख्मी थे. ये सब देखकर किसी ने पुलिस को जानकारी दी. दोनों लाशों की जांच के बाद पुलिस ने मृतकों की पहचान राहुल मीणा, जो पेशे से एक टीचर था और 28 साल की सोनू कुंवर के तौर पर की. इसके बाद पुलिस ने हत्यारोपी की तलाश शुरू की. 

पुलिस को जांच में पता चला कि मरने वाले राहुल और सोनू दोनों ही शादीशुदा थे. लेकिन दोनों के बीच एक्सट्रा मैरिटल अफेयर चल रहा था. इसके बाद जब पुलिस ने जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि ये मामला तंत्र-मंत्र से जुड़ा है. इसके बाद पुलिस ने 200 से ज्यादा लोगों से पूछताछ की और कई सीसीटीवी फुटेज खंगाले. इसके बाद पुलिस ने 52 साल के आरोपी भालेश कुमार को गिरफ्तार किया. 

दोहरे हत्याकांड को क्यों दिया अंजाम?

भालेश कुमार ने पुलिस को बताया कि वह आठ साल से भादवी गुड़ा के इच्छापूर्ण शेषनाग भावजी मंदिर में लोगों का कष्ट निवारण के लिए ताबीज बनाता है. वहीं सोनू कुंवर नाम की लड़की और मृतक राहुल मीणा के घरवाले भी आया-जाया करते थे. इसी बीच राहुल और सोनू के बीच नजदीकी बढ़ गई. उधर, राहुल की पत्नी भी कलेश और झगड़े से तंग होकर भालेश कुमार के पास पहुंची. तांत्रिक ने इस दौरान महिला की परेशानी सुनकर उसे राहुल और सोनू के अवैध संबंधों के बारे में उसे सब कुछ बता दिया.

इसके बाद तांत्रिक की नजर सोनू कुंवर पर थी. इसलिए तांत्रिक ने सोनू कुंवर से नजदीकियां बढ़ानी शुरू कर दीं. मगर राहुल को सारा माजरा पता चल चुका था. तब राहुल और सोनू दोनों तांत्रिक भालेश के पास पहुंचे और उसे बदनाम करने की धमकी दे डाली. भालेश उनकी धमकी से डर गया. उसे भक्तों के बीच अपने नाम और पहचान के खराब होने के डर सताने लगा. इसी परेशानी में तांत्रिक ने एक खौफनाक साजिश रच डाली. जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता था.

ऐसा दिया हत्या को अंजाम 

तांत्रिक ने हत्या को अंजाम देने के लिए फेवीक्विक के 50 पाउच खरीदे. इन्हें उसने एक बोतल में भरकर रख लिया. तांत्रिक भालेश ने 15 नवंबर 2022 की शाम राहुल और सोनू को फोन करके एक टोटके का बहाना बनाया और दोनों को अपने पास सुखाड़िया सर्किल में बुला लिया. फिर तांत्रिक उन दोनों को साथ लेकर अनुष्ठान के नाम पर गोगुंदा इलाके के सुनसान जंगल में ले गया.

तांत्रिक ने दोनों से कहा कि अगर तुम दोनों हमेशा के लिए एक होना चाहते हो तो जैसा कहता हूं, करते जाओ. सबसे पहले भालेश ने उन दोनों को अपने-अपने कपड़े उतारने के लिए कहा. जब दोनों नग्न हो गए तो उन दोनों को उसी के सामने शारीरिक संबंध बनाने के लिए कहा. भालेश की बात मानकर जब दोनों इंटीमेट होने लगे, तभी अचानक तांत्रिक ने बोतल में भरा फेवीक्विक उन दोनों के ऊपर उड़ेल दिया. इससे पहले कि राहुल और सोनू कुछ समझ पाते, वो दोनों एक-दूसरे से बुरी तरह चिपक गए. जब दोनों ने जबरन अलग होने की कोशिश की तो उनकी खाल तक जिस्म से उखड़ गई. राहुल और सोनू संभलने की कोशिश कर ही रहे थे कि तांत्रिक भालेश उन दोनों पर चाकू और पत्थरों से हमला कर दिया. उसने दोनों के प्राइवेट पार्ट पर एक बाद एक कई वार किए. उन्हें पत्थरों से कुचला. नतीजा ये हुआ कि दोनों लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़े और उनकी मौत हो गई. इसके बाद वह फरार हो गया. 
 

 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें