scorecardresearch
 

पेट्रोल पंप मालिक ने गोली मारकर खुद को उड़ाया, कमरे से डबल बैरल बंदूक बरामद

UP News: इटावा के मेहरा चुंगी इलाके में स्थित पेट्रोल पंप के मालिक ने डबल बैरल बंदूक से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है. वहीं, मामले को लेकर परिजनों और पेट्रोल पंप कर्मचारियों से पूछताछ की जा रही है.

X
सांकेतिक तस्वीर.
सांकेतिक तस्वीर.

उत्तर प्रदेश के इटावा में पेट्रोल पंप मालिक ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली. मामला फ्रेंड्स कॉलोनी इलाके के मेहरा चुंगी इलाके का है. यहां लालाराम पेट्रोल पंप के मालिक राजेश गुप्ता ने डबल बैरल बंदूक से खुद को गोली मार ली. गंभीर रूप से घायल को तुरंत इलाज के लिए अस्पताल लाया गया. लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है.

सेल्समैन आलोक ने पुलिस को बताया कि पेट्रोल पंप की मशीन खराब थी जिसका काम राजेश गुप्ता (55) करवा रहे थे. तभी अचानक से वह कमरे के अंदर चले गए. थोड़ी देर बाद कमरे से जब गोली चलने की आवाज आई तो पेट्रोल पंप के सभी कर्मचारी कमरे की ओर भागे.

पुलिस को मामले की सूचना दी गई और आनन-फानन में राजेश को अस्पताल पहुंचाया गया. लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी.

वहीं, मामले में पुलिस क्षेत्राधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि लालाराम पेट्रोल पंप मालिक ने खुद को गोली मार ली है. पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और राजेश को अस्पताल पहुंचाया. लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है. परिजनों और पेट्रोल पंप कर्मचारियों से पूछताछ की जा रही है.

प्यार धोखा खाए युवक ने की आत्महत्या

इससे पहले बस्ती में प्यार में धोखा खाए 26 साल के युवक ने पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी. मरने से पहले युवक ने 4 मिनट का एक वीडियो भी बनाकर फेसबुक पर डाला. वीडियो में युवक ने बताया कि दूसरे समुदाय की लड़की के साथ उसका अफेयर था. लेकिन वह अक्सर उसका आर्थिक, शारीरिक और मानसिक रूप से शोषण करती थी. इसी बीच उसका किसी और शख्स से भी अफेयर चल पड़ा. अब दोनों उसे मारना चाहते हैं. इसलिए वह खुद ही आत्महत्या करने जा रहा है.

गोदाम के लिए निकला था युवक

मामला परशुरामपुर थाना क्षेत्र के आरजानीपुर गांव का है. 26 साल के सुनील कुमार मौर्य के पिता की परशुरामपुर बाजार में ऑटो पार्ट्स की दुकान है. सुनील यहां पिता का काम में हाथ बंटाता था. सोमवार दोपहर 12 बजे वह दुकान से अरजानीपुर गांव किसी काम से निकला. उसने पिता को कहा कि वह गोदाम में कुछ सामान लेने जा रहा है. लेकिन जब वह वापस नहीं लौटा तो सुनील के पिता राम जनक मौर्य ने दुकान में काम करने वाले युवक को गोदाम भेजा.

सिर पर लगी थी गोली

युवक ने गोदाम जाकर कई बार दरवाजा खटखटाया. लेकिन सुनील ने दरवाजा नहीं खोला. युवक ने इसकी सूचना सुनील के पिता को दी. पिता राम जनक ने वहां पहुंचकर किसी तरह गोदाम का दरवाजा तोड़ा तो देखा कि सुनील अंदर मृत अवस्था में पड़ा है. उसके सिर पर गोली लगी हुई थी. साथ ही शव के बगल में लाइसेंसी रिवाल्वर भी पड़ी हुई मिली.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें