scorecardresearch
 

गुजरात: BJP का पूर्व युवा नेता धोखाधड़ी में अरेस्ट, सस्ते घर देने का लालच देकर 3.30 करोड़ की ठगी की

पीड़ितों के मुताबिक, दर्पण ने एक स्कीम लागू की थी, जिसके तहत पैसे इन्वेस्ट करने वाले लोगों को सस्ते दामों पर मकान देने का वादा किया था. दर्पण शाह ने वडोदरा शहर के सुखधाम रेसीडेंसी नाम की सोसायटी बनाई थी. लोगों को सस्ते घर देने का लालच देकर उनसे इन्वेस्ट करवाया गया. उसके बाद मकान नहीं दिए और बहाने बनाता रहा.

X
पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोपी को अरेस्ट कर लिया.
पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोपी को अरेस्ट कर लिया.

गुजरात के छोटाउदयपुर जिले में बीजेपी के पूर्व युवा नेता दर्पण शाह को क्राइम ब्रांच पुलिस ने अरेस्ट किया है. आरोप है कि दर्पण ने वडोदरा शहर में एक सोसायटी की स्कीम बनाकर लोगों से पैसे लिए, लेकिन उन्हें घर उपलब्ध नहीं कराए. इस मामले में दो भाइयों ने थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसके बाद जांच में मामला सही पाया गया और पुलिस ने केस दर्ज कर गिरफ्तारी की.

पीड़ितों के मुताबिक, दर्पण ने एक स्कीम लागू की थी, जिसके तहत पैसे इन्वेस्ट करने वाले लोगों को सस्ते दामों पर मकान देने का वादा किया था. दर्पण शाह ने वडोदरा शहर के सुखधाम रेसीडेंसी नाम की सोसायटी बनाई थी. लोगों को सस्ते घर देने का लालच देकर उनसे इन्वेस्ट करवाया गया. झांसे में आकर दो भाइयों ने दो मकान खरीदने के लिए रुपये जमा करवाए. मगर उनके नाम मकान नहीं दिया गया. 

पुलिस लगातार तलाश में जुटी थी

दर्पण पहले दस्तावेज बनवाने का बहाने बनाता रहा. बाद में समय बीतने के बाद संपर्क खत्म कर लिया. इस पर पीड़ित भाइयों ने वडोदरा पुलिस से शिकायत की और केस दर्ज करवाया. वडोदरा की क्राइम ब्रांच पुलिस ने जांच के बाद दर्पण शाह की तलाश की, लेकिन कुछ पता नहीं चल रहा था. 

3.30 करोड़ की ठगी कर चुका दर्पण

बीते दिनों क्राइम ब्रांच की पुलिस को एक बड़ा इनपुट मिला, जिसके बाद टीमों ने बीते दिन अहमदाबाद-गांधीनगर हाइवे के पास एक होटल में घेराबंदी कर दी और दर्पण शाह को धर दबोचा. पुलिस के मुताबिक, दर्पण शाह कंस्ट्रक्शन का बिजनेस करता है और छोटाउदेपुर जिले में बीजेपी का युवा नेता रह चुका है. उसने 3.30 करोड़ रुपये लोगों से वसूलने के बाद वापस नहीं किये हैं और ना ही उन लोगों को घर दिए हैं. 

सस्ते घर देने का लालच देता था 

दर्पण शाह लोगों को वडोदरा शहर अंदर सोसाइटी और अपार्टमेंट खरीदने की सलाह देता था और लोगों से सस्ते दाम पर घर देने का लालच दिया करता था. लोग रुपये लेकर उसके पास सस्ते दाम पर मकान लेने जाते थे, लेकिन वह पैसे लेने के बाद मकान नहीं देता था. इस तरह उसने कई लोगों से करीब 3.30 करोड़ रुपए की ठगी कर ली थी.    

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें