scorecardresearch
 

मनी लॉन्ड्रिंग केस: मुख्तार अंसारी के बहनोई को ED ने किया गिरफ्तार

मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी ने मुख्तार अंसारी के बहनोई आतिफ रजा को गिरफ्तार कर लिया है. कुछ दिन पहले ही मुख्तार के बेटे को भी जांच एजेंसी ने गिरफ्तार किया था.

X
मुख्तार अंसारी के बहनोई गिरफ्तार
मुख्तार अंसारी के बहनोई गिरफ्तार

मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी ने मुख्तार अंसारी के बहनोई आतिफ रजा को गिरफ्तार कर लिया है. कुछ दिन पहले ही मुख्तार के बेटे को भी जांच एजेंसी ने गिरफ्तार किया था. अब उसी कड़ी में उनके बहनोई की भी गिरफ्तारी हो गई है. ईडी की इस कार्रवाई पर मुख्तार अंसारी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है.

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कसा ईडी का शिकंजा

जानकारी के लिए बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय ने मार्च 2021 में मुख्तार अंसारी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था. उसके बाद ईडी ने मुख्तार के भाई और बीएसपी सांसद अफजाल अंसारी से इसी साल 9 मई, फिर मुख्तार के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी और विधायक भतीजे शोएब अंसारी से 10 मई को और अब्बास अंसारी और छोटे बेटे उमर अंसारी से 20 मई को पूछताछ की थी. इसके बाद 4 नवंबर को लंबी पूछताछ के बाद अब्बास अंसारी को गिरफ्तार किया गया था. कोर्ट द्वारा ईडी को उनकी 7 दिन की कस्टडी दी गई है. मांग 14 दिन की हुई थी, लेकिन कोर्ट सिर्फ 7 दिन की कस्टडी के लिए माना है. 

क्या है ये पूरा मामला?

यहां ये जानना जरूरी है कि साल 2020 में मुख्तार अंसारी के खिलाफ जाली दस्तावेज तैयार कर सरकारी जमीन पर कब्जे करने, लखनऊ में धोखाधड़ी कर संपत्ति अर्जित करने, धोखाधड़ी कर विधायक निधि निकालने का केस दर्ज है. इन्हीं तीनों मुकदमों को आधार बनाकर ईडी ने भी मुख्तार अंसारी पर मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है. लेकिन समय के साथ इस विवाद के साथ उनके बेटे और अब उनके बहनोई भी जुड़ गए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें