scorecardresearch
 

सोने के खदान के पास वीडियो शूटिंग के दौरान 8 मॉडल्स का गैंगरेप

12 महिलाओं और 10 पुरुषों की एक टीम जंगली इलाके में म्यूजिक वीडियो शूट करने गए थे. इसी दौरान वहां डाकुओं का एक गैंग पहुंच गया. गैंग के मेंबर्स बंदूक की नोक पर वहां मौजूद लोगों को लूट लिया. इसके अलावा डाकुओं ने वीडियो के लिए आईं 8 मॉडल्स का रेप भी किया. घटना के दौरान वहां पुलिस भी पहुंच गई. जिसके बाद गैंग और पुलिस के बीच मुठभेड़ शुरू हो गया.

X
म्यूजिक वीडियो शूट करने गई मॉडल्स का हुआ गैंगरेप. (प्रतीकात्मक तस्वीर/AP)
म्यूजिक वीडियो शूट करने गई मॉडल्स का हुआ गैंगरेप. (प्रतीकात्मक तस्वीर/AP)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • घटना के पीछे अवैध माइग्रेंट लोगों को जिम्मेदार बताया जा रहा है
  • पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दो आरोपी

गैरकानूनी गोल्ड माइन के पास म्यूजिक वीडियो शूट कर रहे 8 मॉडल्स को एक गैंग ने पकड़ लिया. फिर बंदूक की नोक पर गैंग के मेंबर्स ने इन 8 मॉडल्स का गैंगरेप किया. घटना के बाद 80 से ज्यादा लोगों को कोर्ट में पेश किया गया है.

मामला साउथ अफ्रीका का है. जोहान्सबर्ग के पास क्रूगेर्सडॉर्प में 28 जुलाई को एक प्रोडक्शन टीम जंगलों में शूटिंग करने गई. इस दौरान यह घटना हुई. इन मॉडल्स की उम्र 19 से 37 साल के बीच बताई जा रही है. गैंग ने इन महिलाओं और क्रू से उनके सारे सामान भी छीन लिए थे.

पुलिस मिनिस्टर भेकी सेले ने कहा- क्रूगेर्सडॉर्प में जो कुछ भी हुआ वह पूरे देश के लिए शर्म की बात है. पुलिस ने घटना के पीछे माइन्स में काम कर रहे अवैध माइग्रेंट का हाथ बताया है. जिन्हें स्थानीय लोग Zama Zama कहते हैं. इस मामले में 84 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

गैंगरेप के मामले में नहीं हुई कोई गिरफ्तारी

पुलिस ने बताया है कि पुलिस के साथ मुठभेड़ के दौरान 2 आरोपियों को ढेर कर दिया गया है. वहीं एक आरोपी गंभीर रूप से घायल है और उसे हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है. गिरफ्तार लोगों के खिलाफ अवैध तौर से रहने और चोरी के मामले में कोर्ट में सुनवाई चल रही है.

राष्ट्रीय पुलिस चीफ फैनी मासेमोला ने कहा कि अगर रेप के मामले जुड़े पाए जाते हैं तो उसको लेकर भी कार्रवाई होगी. हालांकि, अब तक गैंग-रेप के मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

गैंग से पुलिस का हुआ मुठभेड़

माना जा रहा है कि म्यूजिक वीडियो शूट कर रहे लोगों के पास आवाज सुनकर गैंग के लोग पहुंचे थे. वीडियो शूट के लिए 12 महिलाएं और 10 पुरुष वहां मौजूद थे. बताया जा रहा है कि सभी मॉडल्स जोहान्सबर्ग के पास से एक दिन के लिए हायर किए गए थे. जब क्रू के पास गैंग के लोग पहुंचे तो उन लोगों ने भागने की भी कोशिश की थी. लेकिन तभी गैंग ने फायरिंग शुरू कर दी थी.

गैंग ने वहां मौजूद महिलाओं का रेप किया और सामान भी लूट रहे थे. इसी दौरान वहां साउथ अफ्रीका की पुलिस भी पहुंच गई. दोनों तरफ से फायरिंग शुरू हो गई. इसमें गैंग के 2 मेंबर्स मारे गए और एक घायल हुआ बाकि के 17 वहां से भागने में कामयाब रहे. इसके बाद इस इलाके से 65 अवैध माइग्रेंट को गिरफ्तार कर लिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें