scorecardresearch
 

नेपाल में भीड़ के हत्थे चढ़े मूसेवाला की हत्या के आरोपी, बच्चा चोर समझकर खूब पीटा

सिद्धू मूसेवाला पर गोली चलाने वाले शूटर दीपक मुंडी और उसके सहयोगी कपिल पंडित और राजेंदर भारत से नेपाल में दाखिल होने की फिराक में झापा गांव में पहुंचे. इस दौरान गांव वालों ने बच्चा चोर गैंग का सदस्य समझ कर तीनों की बुरी तरह पिटाई कर दी थी. बाद में इन्हें झापा पुलिस स्टेशन के हवाले कर दिया था.

X
सिद्धू मूसेवाला के हत्यारोपी दीपक मुंडी, राजेंद्र और कपिल पंडित
सिद्धू मूसेवाला के हत्यारोपी दीपक मुंडी, राजेंद्र और कपिल पंडित

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के मर्डर केस मामले में पुलिस ने शूटर दीपक मुंडी को उसके दो सहयोगियों के साथ गिरफ्तार किया है. तीनों की गिरफ्तारी को लेकर आजतक को नेपाल पुलिस के सूत्रों ने चौंकाने वाली जानकारी दी है. दरअसल, इन तीनों बदमाशों की नेपाल में एक गांव के लोगों ने पकड़कर बच्चा चोर गैंग के सदस्य समझकर धुनाई कर डाली थी. इसके बाद तीनों को नेपाल पुलिस के हवाले कर दिया गया था. जहां से पंजाब पुलिस ने केन्द्रीय एजेंसियों और दिल्ली पुलिस के साथ एक ज्वॉइंट ऑपरेशन में तीनों गिरफ्तार किया है. 

सूत्रों के मुताबिक सिद्धू मूसेवाला पर गोली चलाने वाले शूटर दीपक मुंडी और उसके सहयोगी कपिल पंडित और राजेंदर जब भारत से नेपाल में दाखिल होने की फिराक में नेपाल के झापा गांव में पहुंचे तो गांव वालों ने बच्चा चोरी गैंग का सदस्य समझ कर तीनों की बुरी तरह पिटाई कर दी थी और बाद में झापा पुलिस स्टेशन के हवाले कर दिया था. इस दौरान तीनों को चोटें भी आईं.

खुद को बताया था बिजनेसमैन

नेपाल पुलिस को पूछताछ में गुमराह करते हुए दीपक मुंडी समेत तीनों आरोपियों ने बताया था कि वो भारतीय बिजनेसमैन हैं और भारत से नेपाल जा रहे हैं. नेपाल पुलिस को पूछताछ के दौरान ये भनक भी नहीं लगी की ये तीनों भारत के पंजाब में एक बड़े हत्याकांड में वांटेड हैं और दिल्ली पुलिस व पंजाब पुलिस समेत तमाम एजेंसियों को इनकी तलाश है.

एक फोन कॉल से पकड़े गए आरोपी

नेपाल पुलिस ने दीपक मुंडी समेत तीनों आरोपियों का पहचान पत्र चेक किया और तीनों को कहा कि वो अपने किसी पहचान वाले को थाने में बुला लें, तभी उन्हें छोड़ा जाएगा. जैसे ही नेपाल पुलिस की हिरासत में मौजूद राजेंद्र उर्फ जोकर ने अपने किसी करीबी को फोन मिलाया उस फोन कॉल को दिल्ली पुलिस ने इंटरसेप्ट किया. कारण, दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने पहले से ही राजेंदर का फोन सर्विलांस पर लगाया हुआ था. 

जानकारी के मुताबिक फोन इंटरसेपेशन से पूरी जानकारी स्पेशल सेल को लगी. तुरंत स्पेशल के अधिकारियों ने नेपाल पुलिस से संपर्क किया और बताया कि बच्चा चोरी के शक में पकड़े गए तीनों संदिग्ध हत्याकांड में वांटेड हैं. इसके बाद दिल्ली और पंजाब पुलिस नेपाल पहुंची और तमाम दस्तावेज नेपाल पुलिस को सौंपें. जिसके बाद दीपक मुंडी, कपिल और राजेंदर को गिरफ्तार कर दिल्ली लाया गया.

दाखिल हो चुकी है चार्जशीट

शुभजीत सिंह सिद्धू यानी सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में पुलिस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर चुकी है. है. इस चार्जशीट में उन तमाम लोगों को नामजद किया है, जो मूसेवाला हत्याकांड में किसी भी तरह से शामिल हैं. आरोप पत्र में सभी अभियुक्तों के बारे में सिलसिलेवार तरीके से बताया गया है. चार्जशीट में 34 लोग नामजद किए गए हैं. पुलिस का कहना है कि कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश विदेशी जमीन पर रची गई थी. इस हत्या की वारदात को पूरा करने के लिए एक बड़ा नेटवर्क में काम कर रहा था. इसमें किसी कंपनी की तरह लोगों को काम बांटा गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें