scorecardresearch
 

मेरठ: 42 लाख के स्कॉलरशिप स्कैम में आरोपी अधिकारी का सहायक गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

मेरठ में आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन (EOW) ने 42 लाख के छात्रवृति घोटाले के आरोपी संजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है. संजय त्यागी तत्कालीन अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के पटल सहायक था. फिलहाल संजय त्यागी माछरा बीडीओ ऑफिस में तैनात था. ईओडब्ल्यू की टीम ने ब्लॉक से ही संजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

मेरठ में आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन (EOW) ने 42 लाख के छात्रवृति घोटाले (Scholarship Scam) के आरोपी तत्कालीन अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के तत्कालीन पटल सहायक संजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है. फिलहाल संजय त्यागी माछरा बीडीओ ऑफिस में तैनात था. ईओडब्ल्यू की टीम ने ब्लॉक से ही संजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है.

फरार चल रहे अधिकारी

इस घोटाले में बागपत से निलंबित अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी सुमन गौतम भी फरार चल रही हैं. उनकी गिरफ्तारी के लिए भी ईओडब्ल्यू दबिश डाल रही है. ईओडब्ल्यू ने प्रेस रिलीज जारी कर बताया कि खंड विकास अधिकारी कार्यालय माछरा से अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के तत्कालीन पटल सहायक संजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है.

अधिकारियों की मिलीभगत से हड़पे पैसे

दरअसल जनपद मेरठ के हजारों अल्पसंख्यक स्टूडेंट्स को वर्ष 2010-11 की भारत सरकार द्वारा दी जाने वाली अल्पसंख्यक प्री-मेट्रिक छात्रवृत्ति को स्कूल मैनेजमेंट द्वारा तत्कालीन जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मेरठ एवं अन्य की मिलीभगत से धोखाधड़ी करके अल्पसंख्यक छात्रों को वितरित की जाने वाली छात्रवृत्ति की धनराशि को हड़प लिया था. 

42 लाख के घोटाले में फरार चल रहा था संजय त्यागी

बता दें कि अभियुक्त संजय त्यागी की गिरफ्तारी 14 अक्टूबर 2022 को खण्ड विकास अधिकारी कार्यालय, माछरा जनपद मेरठ से हुई. 42 लाख की छात्रवृति घोटाले में संजय त्यागी वांछित चल रहा था. साल 2013 में तत्कालीन जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी सुमन गौतम, जिला अल्पसंख्यक विभाग में वरिष्ठ पटल सहायक संजय त्यागी व स्कूल के मैनेजर उम्मेद अली के खिलाफ सिविल लाइन्स थाने में मुकदमा दर्ज कराया था.

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें