scorecardresearch
 

महाराष्ट्र : साहूकार को 15 हजार रुपये नहीं लौटा पाए तो दंपति ने सौंप दी डेढ़ साल की बच्ची!

महाराष्ट्र के सातारा (Satara Maharashtra) जिले में 15 हजार रुपये का कर्ज न चुका पाने पर एक दंपति ने अपनी डेढ़ साल की मासूम बच्ची को बेच दिया. मामले की खबर पुलिस को लगी तो पुलिस ने बच्ची को बरामद कर उसे शिशु बाल सुधार गृह भेज दिया. वहीं आरोपियों के बारे में जांच की जा रही है.

X
बच्ची को बरामद कर पुलिस ने शुरू की जांच.   (सांकेतिक चित्र) बच्ची को बरामद कर पुलिस ने शुरू की जांच. (सांकेतिक चित्र)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महाराष्ट्र के सातारा जिले का मामला
  • बच्ची को बरामद कर पुलिस ने शुरू की जांच

महाराष्ट्र के सतारा (Maharashtra satara)  जिले में 15 हजार रुपये के कर्ज के बदले डेढ़ साल की बच्ची को बेचे जाने का मामला सामने आया है. मामला प्रकाश में आने के बाद पुलिस ने बच्ची को बरामद कर लिया. वहीं आरोपियों से पुलिस (Police) पूछताछ कर रही है.

जानकारी के अनुसार, सातारा में एक दंपति पर 15 हजार रुपये का कर्ज था. साहूकार से लिया गया कर्ज जब दंपति समय से नहीं चुका पाए तो उन्होंने अपनी एक डेढ़ साल की मासूम बच्ची को बेच देने का फैसला किया. दंपति ने साहूकार के 15 हजार रुपयों के बदले अपनी डेढ़ वर्ष की बच्ची को सौंप दिया. इस बारे में खबर जब पुलिस को लगी तो पुलिस ने बच्ची को बरामद ​कर लिया.

बताया जा रहा है कि बच्ची को सतारा के बाबर नाम के दंपति ने 15000 रुपये के बदले ले लिया था. इस बात की पुष्टि सातारा पुलिस के अजीत बोराडे ने की. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले की पुलिस छानबीन कर रही है. उन्होंने कहा कि बच्ची को बेचने और खरीदने वालों के बारे में जानकारी की जा रही है. उनसे पूछताछ हो रही है. महिला का कहना है कि उसने बाबर नाम के व्यक्ति से 15 हजार रुपये लिए थे. नहीं लौटा पाए तो बच्ची दे दी. वहीं बाबर का कहना है कि उसने 15 हजार रुपये देकर बच्ची को लिया है. पुलिस का कहना है कि मामला संदिग्ध लग रहा है. गहनता से जांच के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो सकेगा.

बच्ची को शिशु बाल सुधार गृह में कराया भर्ती 

अजीत बोराडे ने बताया कि एक महिला ने बच्ची को बेचे जाने के संबंध में पुलिस को जानकारी दी थी. इसके बाद पुलिस ने बच्ची को बरामद कर लिया है. पुलिस ने बच्ची को मसवड के शिशु बाल सुधार गृह (Infant child care home) में भर्ती कर दिया है. पुलिस के मुताबिक, एक महिला ने जून 2021 को बाबर नाम के व्यक्ति को कर्ज के बदले बच्ची को दे दिया था. 

रिपोर्ट: इम्तियाज मुजावर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें