scorecardresearch
 

UP: माफिया मुख्तार अंसारी के करीबी गैंगस्टर की 46 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क

माफिया मुख्तार अंसारी के करीबी उमेश सिंह की 46 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति कुर्क की गई है. उमेश सिंह पर गैंगस्टर एक्ट लगा है. उमेश सिंह ने यह संपत्ति अपने और अपनी पत्नी के नाम कर कराई हुई थी. इसमें दो मकान भी शामिल हैं. कुछ दिनों पहले ही मुख्तार के करीबियों पर ईडी ने छापा मारा था.

X
मुख्तार अंसारी ( फाइल फोटो )
मुख्तार अंसारी ( फाइल फोटो )

UP News: बांदा जेल में बंद बाहुबली नेता और माफिया मुख्तार अंसारी के करीबी उमेश सिंह की 46 करोड़ से ज्याद कीमत की संपत्ति कुर्क की गई है. कुर्क की गई संपत्ति में जमीन और दो मकान शामिल हैं. मुख्तार के खास कहे जाने वाले उमेश सिंह पर गैंगस्टर एक्ट लगा हुआ है. जिस आधार पर कुर्की की कार्यवाही की गई.

मऊ के डीएम अरुण कुमार ने गैंगेस्टर एक्ट के तहत मंगलवार को उमेश सिंह की संपत्ति कुर्की के आदेश दिए. डीएम के दिए आदेश पर भारी संख्या में पुलिस बल के साथ सीओ सिटी ने उमेश सिंह की संपत्ति को कुर्क किया.  

जानकारी के अनुसार, गैंगस्टर एक्ट के तहत की गई कार्यवाही में उमेश सिंह पुत्र रामवृक्ष सिंह निवासी अहिलाद ने अपने और अपनी पत्नी शीला के नाम पर मौजा भुजौटी तहसील सदर, जनपद मऊ में स्थित आराजी संख्या 13 में रकबा 1530.9 वर्ग मीटर जमीन.

आराजी संख्या 17 के रकबा 597 कड़ी में से 298.5 कड़ी और आराजी नंबर 17 में ही ओमप्रकाश नाम के व्यक्ति से खरीदी गई भूमि, जिसका रकबा 56 कड़ी था, के अलावा पत्नी शीला के नाम से क्रय की गई भूमि रकबा 245 कड़ी की कुर्की की है.

इन जमीनों के अलावा रकबा 56 कड़ी और रकबा 245 कड़ी पर निर्मित दो मंजिला पक्के भवनों को गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए कुर्क किया गया है. कुर्क की गई जमीन और उन पर बने दो मंजिला पक्के मकानों की मार्केट वैल्यू 46 करोड़ 71 लाख के करीब बताई गई है.

बता दें कि मुख्तार के खास उमेश सिंह के खिलाफ मऊ जनपद के विभिन्न थानों में कई आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं.

मुख्तार के करीबियों पर जारी है रेड

बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी के करीबियों पर लगातार रेड की जा रही हैं. कुछ दिनों पहले ही मुख्तार अंसारी के आवास के साथ-साथ गाजीपुर में अंसारी के तीन करीबियों रियल एस्टेट कारोबारी विक्रम अग्रहरी, गणेश दत्त मिश्रा और बाबा बस सर्विस के मालिक मुस्ताक खान के ठिकानों पर भी ईडी की टीम ने छापेमारी की थी.

लखनऊ में हजरतगंज इलाके में स्थित ग्रैंडियर अपार्टमेंट के एक फ्लैट में ईडी ने छापा मारा था. इस छापे में मुख्तार अंसारी के नाम पर 100 से अधिक बेनामी संपत्तियों के दस्तावेज मिले थे.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें