scorecardresearch
 

Lucknow: पति की लाश पर बिलखकर रो रही पत्नी ही निकली कातिल, आशिकी में हत्या

लखनऊ के मड़ियांव इलाके में बीती 6 सितंबर को अखिलेश वर्मा की लावारिस हालत में लाश मिली थी, पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला अखिलेश की हत्या की गई है. अखिलेश वर्मा को उसकी पत्नी नेहा और उसके आशिक राहुल गिरि ने मार डाला था. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है.

X
पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके आशिक को गिरफ्तार कर लिया
पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके आशिक को गिरफ्तार कर लिया

आशिकी के चलते बेवफा पत्नी ने अपने ही पति को मौत के घाट करवा दिया. पूरा मामला लखनऊ के मड़ियाव थाना क्षेत्र का है जहां बीते 7 सितंबर को मड़ियाहूं के धैलापुर गांव और गैस एजेंसी के बीच अखिलेश वर्मा नाम के व्यक्ति का शव बरामद हुआ था, जिसकी जांच पुलिस कर रही थी कि आखिर शव वहां क्यों और कैसे आया?

इस मामले में डीसीपी कासिम आब्दी ने बताया कि मृतक का नाम अखिलेश वर्मा उर्फ सम्राट था जोकि विकास नगर का रहने वाला था, अखिलेश वर्मा के साथ उसकी पत्नी नेहा वर्मा भी रहती थी, मृतक की पत्नी नेहा वर्मा का संबंध राहुल गिरी नाम के व्यक्ति के साथ था और जब इस बात का पता अखिलेश को चलता है तब वह इसका विरोध करता है.

पुलिस के मुताबिक, एक दिन मृतक अखिलेश कीपत्नी नेहा, राहुल गिरी और राहुल का अन्य दोस्त अकाश गिरी मिलकर शराब पीते हैं और इसी दौरान अखिलेश को रास्ते से हटाने की पूरी प्लानिंग बनती है. इसके बाद जब मृतक अखिलेश धौलापुर पुर गांव से गैस एजेंसी की तरफ के सूनसान रास्ते से जा रहा था तभी नेहा वर्मा द्वारा दिए गए स्टॉल के माध्यम से अखिलेश का गला दबाकर हत्या कर दी गई.

हत्या को एक्सीडेंट दिखाने के लिए भी अखिलेश के शव को गाड़ी से रौंद दिया गया. अखिलेश की हत्या के बाद उसकी लाश पर पत्नी नेहा वर्मा बिलख-बिलख कर रो रही थी, लेकिन जब पुलिस ने तफ्तीश शुरू की तो पत्नी ही कातिल निकली. उसने अपने आशिक राहुल गिरी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी थी. पुलिस ने आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है.

डीसीपी कासिम आब्दी ने बतया कि हत्यारे राहुल गिरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, राहुल सीतापुर का रहने वाला है और मड़ियाव के पलटन छावनी में फिलहाल रहता था और चावल ढोने का काम करता था, वहीं उसका साथी आकाश गिरी फरार है.

राहुल गिरी और अन्य लोगों के अपराधिक इतिहास भी खंगाले जा रहे हैं कि क्या इन लोगों का कोई अपराधिक इतिहास भी पहले रह चुका है या फिर नहीं? फिलहाल पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज करके राहुल गिरी को गिरफ्तार कर लिया है. मौके से स्टॉल और घटना में प्रयुक्त बाइक को बरामद किया गया है और आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है.

 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें