scorecardresearch
 

Jharkhand: रब्बानी अंसारी ने साजन उरांव बनकर किया यौन शोषण, पोल खुली तो लड़की को कुएं में फेंका

झारखंड के लोहरदगा जिले में एक नाबालिग लड़की को एक युवक ने अपनी पहचान छिपाकर प्रेमजाल में फंसाया. इसके बाद उसका यौन शोषण किया.जब आरोपी की असलियत सामने आई तो उसने लड़की को कुएं में धकेल दिया. लड़की की जैसे तैसे जान बच गई. पुलिस से शिकायत के बाद आरोपी को अरेस्ट कर लिया गया है.

X
पहचान छिपाकर लड़की का यौन शोषण.
पहचान छिपाकर लड़की का यौन शोषण.

झारखंड के लोहरदगा की एक नाबालिग लड़की के साथ अन्य समुदाय के युवक ने अपनी पहचान छिपाकर दोस्ती की. इसके बाद प्रेमजाल में फंसाकर उसके साथ यौन शोषण किया. जब आरोपी की असलियत पता चली तो लड़की ने विरोध किया. इस पर आरोपी ने उसे कुएं में धकेल कर जान से मारने की कोशिश की. लड़की किसी तरह जान बचाकर घर पहुंची और परिवारवालों को जानकारी दी. मामले की शिकायत पुलिस से की गई. पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.

दरअसल, लोहरदगा जिले की 17 वर्षीय लड़की के पास 6 महीने पहले एक अंजान युवक का कॉल आया. उसने अपना नाम साजन उरांव बताया. इसके बाद दोस्ती करने की बात कहकर अक्सर फोन करने लगा. लड़की भी उसके झांसे में आ गई. प्रेमजाल में फंसाकर कई बार यौन शोषण किया. इसी बीच लड़की को पता चला कि उसका नाम साजन उरांव नहीं, बल्कि रब्बानी अंसारी है, तो लड़की ने विरोध किया. 

इस पर आरोपी ने लड़की का आपत्तिजनक वीडियो वायरल कर दिया. इसके अलावा लड़की को रास्ते से हटाने के लिए उसे कुएं में धकेल दिया और ऊपर से पत्थर भी मारे. हालांकि, कुएं में बनी सीढ़ीनुमा बनावट के सहारे किसी तरह लड़की निकल आई और उसकी जान बच गई. आरोपी रांची जिले के नरकोपी थाना क्षेत्र में मोबाइल की दुकान चलाता है.

इस घटना से हिंदू संगठनों में आक्रोश है. संगठन के लोगों का कहना है कि अपनी पहचान छिपाकर लड़कियों को झांसे में लेने और उनका यौन शोषण करने, धर्म परिवर्तन की कोशिश करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए. राष्ट्रीय हिंदू विकास परिषद ने इस तरह के मामलों में दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है.

पीड़िता बोली- आरोपी ने खुद को पेशे से सिंगर बताया था

इस मामले में पीड़िता ने कहा कि आरोपी ने खुद को अनुसूचित जनजाति (ST) बताया था. इसके बाद वह फोन पर बात करने लगा. उसने बताया था कि वह पेशे से सिंगर है. बातों में फंसाने के बाद लड़की को किराए के रूम में रखा. पीड़िता ने बताया कि जब आरोपी की असलियत का पता चला, तो उसने कहा कि वह साथ रहना नहीं चाहती. इसके बाद वह मारपीट करने लगा. जान से मारने की धमकी देने लगा. आपत्तिजनक वीडियो वायरल कर दिया. इसके बाद कुएं में धकेल दिया और पत्थर मारे. 

डीएसपी परमेश्वर प्रसाद ने कहा कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है. मामले की जांच की जा रही है. चूंकि पीड़िता नाबालिग है, इसलिए धारा 376 और पॉक्सो एक्ट के अलावा अन्य धाराओं के तहत कार्रवाई की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें