scorecardresearch
 

UP: 109 अलग-अलग बैंकों के ATM कार्ड, 70 हजार कैश के साथ अंतरराज्यीय गैंग का भंड़ाफोड़

औरैया पुलिस ने एटीएम फ्रॉड करने वाले गैंग का खुलासा किया है. गैंग के मास्टरमाइंड समेत 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने आरोपियों के पास से एटीएम, बाइक, फोन और कैश बरामद किया है. पकड़े गए आरोपी गैंग के मास्टरमाइंड जालौन के रहने वाले मनमोहन और औरैया के रहने वाले दिनेश और रोहित हैं.

X
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

उत्तर प्रदेश के औरैया में पुलिस को मिली बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने एटीएम फ्रॉड करने वाले गैंग का खुलासा किया है. गैंग के मास्टरमाइंड सहित 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने आरोपियों के पास से एटीएम, बाइक, फोन और कैश बरामद किया है.

दरअसल, औरैया सदर कोतवाली क्षेत्र में अपराधियो को पकड़ने के लिए अभियान चलाया जा रहा है. इसके तहत ही पुलिस ने मुखबिर से सूचना पर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पकड़े गए आरोपियों की पहचान जालौन के रहने वाले गैंग के मास्टरमाइंड मनमोहन और औरैया के रहने वाले दिनेश और रोहित के रूप में हुई है.

भोले-भाले लोगों को बनाते थे निशाना 

पुलिस ने इन तीनों के पास से अलग-अलग बैंकों के 109 एटीएम कार्ड, 70 हजार कैश, 3 बाइक और 3 एंड्रॉयड फोन बरामद किए हैं. पुलिस के अनुसार, गैंग के लोग भोले भाले लोगों और आस-पास के रहने वाले लोगों को निशाना बनाते थे.

विभिन्न योजनाओं के नाम पर उनका बैंकों में खाता खुलवाते थे. इसके बाद एटीएम (ATM) और पिन प्राप्त कर लेने के बाद खातों से रुपए निकाल लेते थे. कभी-कभी बैंकों की तकनीकी खराबी बताकर खाते से रुपए निकाल लेते थे. इससे ही अपने खर्चे पूरे करते थे. आरोपी मास्टरमाइंड मनमोहन पहले भी फ्रॉड के मामले में जेल जा चुका है.

दूसरे राज्यों में जाकर निकालते थे रुपए

मामले में औरैया के पुलिस अधीक्षक चारू निगम ने बताया, "पुलिस ने फ्रॉड करने वाले गैंग के तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने पूछताछ में बताया है कि वह लोगों को सरकारी लाभ दिलाने का झांसा देकर पहले बैंक में खाता खुलवाते थे. इसके बाद एटीएम और पासवर्ड लेकर अन्य राज्यों में जाते थे. इसके बाद पैसे निकाल लेते थे. बाद में तकनीकी खराबी को लेकर कंप्लेंट करा देते थे."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें