scorecardresearch
 

IIT छात्रा की असावधानी, सेल्फी लेते वक्त पैर फिसला, गंगा में गिरकर मौत

कानपुर में सेल्फी लेने के चक्कर में एक छात्रा की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि आईआईटी की छात्रा दोस्तों के साथ गंगा बैराज पर घूमने गई थी. जहां पर वो बैराज के फाटक पर चढ़कर सेल्फी ले रही थी तभी अचनाक उसका पैर फिसला और वो गंगा में गिर गई. 

सेल्फी लेने के चक्कर में छात्रा की मौत सेल्फी लेने के चक्कर में छात्रा की मौत
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आईआईटी कानपुर की छात्रा गंगा नदी में गिरी
  • सेल्फी ले रही थी छात्रा, पैर फिसलने से गंगा में गिरी

उत्तर प्रदेश के कानपुर में सेल्फी लेने के चक्कर में एक छात्रा की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि आईआईटी की छात्रा दोस्तों के साथ गंगा बैराज पर घूमने गई थी. जहां पर वो बैराज के फाटक पर चढ़कर सेल्फी ले रही थी तभी अचनाक उसका पैर फिसला और वो गंगा में गिर गई. मौके पर मौजूद उसके साथियों ने तुरंत ही इस घटना की सूचना पुलिस को दी और गोताखोरों ने पानी में कूदकर लड़की को बाहर निकाला फिर एंबुलेंस से अस्पताल लेकर पहुंचे. लेकिन जांच के बाद डॉक्टरों ने लड़की को मृत घोषित कर दिया. देर शाम पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया. 

सेल्फी लेने के चक्कर में छात्रा गंगा में गिरी 

20 साल की छात्रा राजस्थान के भीलवाड़ा की रहने वाली थी और उसने सितंबर में कानपुर आईआईटी के हॉस्टल में रहना शुरू किया था. शनिवार की शाम 6 बजे अपने दोस्तों के साथ गंगा बैराज पर घूमने गई थी. फाटक पर चढ़कर वो सेल्फी ले रही थी और यहां से अचानक उसका पैर फिसल गया और वो 20 फुट नीचे गंगा में जा गिरी. गोताखोरों की मदद से छात्रा को निकाला गया फिर तुरंत ही अस्पताल ले जाया गया. जहां पर डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया. 

गंगा में डूबने से आईआईटी छात्रा की मौत 

इस घटना की सूचना छात्रा के परिजनों को दी गई. जानकारी मिलते ही उसके परिवार के लोग कानपुर पहुंचे और रविवार शाम पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया और वो एंबुलेंस से शव लेकर राजस्थान के लिए रवाना हो गए. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में डूबने से मौत की पुष्टि हुई है. बताया जा रहा है कि छात्रा बैराज पर बने सिंचाई विभाग के गेट को खोलकर चली गई. जहां अंधेरे के चलते पैर फिसलने से हादसा हो गया. इस घटना के बाद से परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है.   

परिजनों ने संस्थान पर लापरवाही का आरोप लगाया

नबाब गंज थाना क्षेत्र के एसीपी ब्रज नारायण सिंह ने फोन पर बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजन राजस्थान ले गए.  मृतक छात्रा सेजल शाम 6 बजे अपने साथियों के साथ बैराज घूमने आई थी. तभी वो जाली पार करके पिलर पर जाकर सेल्फी लेने लगी. उसी दौरान वो नीचे गिर गई रात में पुलिस के गोताखोरों से लाश को निकाला. इस घटना के बाद हर कोई सकते में है. 

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×