scorecardresearch
 

पत्नी की हत्या कर खुदकुशी का दिया रूप, कारण जानकर हो जाएंगे हैरान

गुजरात के सूरत में अडानी कंपनी के मेंटेनेंस विभाग में असिस्टेंट मैनेजर ने पत्नी की हत्या कर दी. वह मानसिक रूप से बीमार पत्नी से पीछा छुड़ाना चाहता था. आरोपी ने पत्नी की हत्या को खुदकुशी का रूप देने की कोशिश भी की. मगर, पुलिस के सामने आरोपी की चालाकी सामने आ गई और उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

X
पति ने कर दी पत्नी की हत्या
पति ने कर दी पत्नी की हत्या

गुजरात के सूरत में पति ने गला दबाकर पत्नी की हत्या कर दी. वारदात को खुदखुशी का रूप देने की कोशिश की और खुद ही पुलिस को फोन पर जानकारी दी. हालांकि, पति की ये चालबाजी काम नहीं आई और पुलिस ने हत्या के आरोप में पति को गिरफ्तार कर लिया.

मानसिक रूप से बीमार पत्नी से छुटकारा पाने के लिए पति ने वारदात को अंजाम दिया था। इसके बाद वह ऐसे नाटक करने लगा, जैसे पत्नी ने परेशान होकर खुदकुशी कर ली हो.

मामला अडाजन थाना क्षेत्र के सोमेश्वर सोसायटी का है. 37 साल की महिला वैशाली पटेल बुधवार की रात को अपने घर से मृत अवस्था में मिली थी. घर में मौजूद पति दिनेश पटेल ने ही पुलिस को फोन कर पत्नी के जहर पीकर खुदकुशी करने की जानकारी दी थी.

पुलिस को सुनाई झूठी कहानी 
मौके पर पहुंची पुलिस ने डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया था. दिनेश पटेल ने शुरुआत में पुलिस को बताया, "मैं अडानी कंपनी के मेंटेनेंस विभाग में असिस्टेंट मैनेजर हूं. घर में जब मैं सो रहा था, तो बेटी के स्कूल में प्रिंसिपल से मिलने पत्नी वैशाली गई थी."

दिनेश ने आगे बताया, "प्रिंसिपल से मिलने के बाद वह घर आई और उसके बाद घरेलू कामकाज किया. इसके बाद हॉल में ही सो गई थी. जब वह शाम 8 बजे तक नहीं उठी, तो उसने जगाने की कोशिश की. मगर, वह मृत हालत में मिली थी." 

पोस्टमार्टम में पुलिस को हुआ शक 
पति के बयान के बाद पुलिस को लगा कि महिला ने जहर पी कर जान दी है. जांच के दौरान उसके गले पर कई निशान पाए गए. इसके बाद पुलिस और पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों को पति के दावे पर शक होने लगा.

गुरुवार को मृतक महिला का पोस्टमार्टम किया गया. पता चला कि उसने खुदकुशी नहीं की थी, बल्कि उसकी हत्या हुई थी. इसका पता चलने के बाद पुलिस ने दिनेश पटेल से सख्ती से पूछताछ की. आरोपी पति ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. 

पति बोला- मानसिक बीमारी से परेशान हो गया था 
पुलिस ने जब आरोपी से हत्या का कारण पूछा, तो उसने बताया, "पत्नी पिछले कुछ समय से मानसिक तौर पर बीमार रहती थी. पत्नी की बीमारी से परेशान हो चुका था. वह हर बात पर झगड़ा करती थी. पिछले 3 सालों से पत्नी से छुटकारा पाना चाहता था.'

तलाक भी नहीं देना चाहती थी पत्नी 
आरोपी ने पुलिस को बताया, "पत्नी उसे तलाक देने को भी तैयार नहीं थी. बुधवार को बेटी के स्कूल से लौटने के बाद पत्नी ने बच्ची की पढ़ाई को लेकर  झगड़ा शुरू कर दिया. वैशाली ने बेटी का स्कूल बैग फेंक कर मारा था, जिसके बाद गुस्से में दुपट्टे से गले में फंदा लगाकर हत्या कर दी."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें