scorecardresearch
 

गाजियाबाद: नशे का आदी लेकिन नशा मुक्ति केंद्र नहीं जाना, दबाव बनाया तो अधिकारी की चाकू से गोदकर हत्या की

गाजिाबाद में एक नशा मुक्ति केंद्र के कर्मचारी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई. एक शख्स को नशा मुक्ति केंद्र लेकर जाना था, लेकिन उसने जाने से मना कर दिया और जब दवाब बनाया गया तो उसने चाकू से वार कर अधिकारी को मौत के घाट उतार दिया.

X
नशा मुक्ति केंद्र के अधिकारी की हत्या करने वाला गिरफ्तार नशा मुक्ति केंद्र के अधिकारी की हत्या करने वाला गिरफ्तार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नशा मुक्ति केंद्र के अधिकारी की चाकू से गोदकर हत्या
  • आरोपी को नहीं जाना था नशा मुक्ति केंद्र, दवाब बनाने पर हमला

गाजियाबाद में एक नशा मुक्ति केंद्र के कर्मचारी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई. एक शख्स को नशा मुक्ति केंद्र लेकर जाना था, लेकिन उसने जाने से मना कर दिया और जब दवाब बनाया गया तो उसने चाकू से वार कर अधिकारी को मौत के घाट उतार दिया.

नशा मुक्ति केंद्र के अधिकारी की हत्या

दरअसल 14 नवंबर को नशा मुक्ति केंद्र के दो अधिकारी जितेंद्र और अनमोल को किसी का कॉल आया था. उस कॉल के बाद दोनों दिल्ली के चमेलियन रोड पर पहुंचे और कासिम नाम के एक शख्स को उसके घर से नशा मुक्ति केंद्र ले जाने लगे. लेकिन कासिम ने जाने से मना कर दिया और भागने का प्रयास किया. लेकिन अधिकारियों ने ऐसा होने नहीं दिया और अपना दवाब बनाकर रखा.

अब इसी दवाब के चक्कर में कासिम ने बड़ा कदम उठा दिया. उसने अपने घर से चाकू निकाला और अनमोल पर ताबड़तोड़ वार किया. कई बार उस पर चाकू का इस्तेमाल किया. गंभीर स्थिति में अधिकारी को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां उसने इलाज के दौरान 2 दिसंबर को दम तोड़ दिया. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की और टेक्निकल सर्विलांस के जरिए कासिम को सदर बाजार इलाके से गिरफ्तार कर लिया.

जानिए क्या था पूरा मामला

अब पूछताछ में कासिम ने बताया कि वो नशा मुक्ति केंद्र नहीं जाना चाहता था जब नशा मुक्ति केंद्र की टीम पहुंची तो वो घर से भागना चाहता था, इसलिए उसने अनमोल को चाकू मारा और फरार हो गया. इस पूरे मामले में कासिम के परिवार की कोई प्रतिक्रिया नहीं है, लेकिन पुलिस ने समय रहते अपनी कार्रवाई कर दी.

पिछले दो दिनों में गाजियाबाद में कई बड़ी वारदातें हो गई हैं. दो दिन पहले ही कविनगर इलाके में एक सिर कटी लाश मिली थी. बाद में जांच में सामने आया कि एक दोस्त ने ही दूसरे दोस्त की हत्या कर दी थी. किसी पुरानी बात को लेकर विवाद था, जिसके बाद इस जुर्म को अंजाम दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें