scorecardresearch
 

नाबालिग को लगा टीचर उसे बचा लेगा, लेकिन छात्रों को भगाकर उसने भी किया रेप

कैमूर में 14 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. आरोपियों में गांव के सरकारी स्कूल का टीचर भी शामिल है. इस घटना में शामिल सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पीड़िता को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है.

X
(प्रतीकात्मक फोटो)
(प्रतीकात्मक फोटो)

बिहार के कैमूर जिले में आदिवासी समाज की नाबालिग छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना हुई. बताया जा रहा है कि पीड़िता रविवार सुबह शौच के लिए निकली थी. तभी गांव के कुछ नाबालिग लड़कों समेत स्कूल के टीचर ने भी 14 साल की लड़की के साथ इस घिनौनी हरकत को अंजाम दिया.

पुलिस ने पॉक्सो एक्ट और एससी, एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पीड़िता ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया कि वो सुबह शौच के लिए निकली थी. पहाड़ी के पास दो सहपाठियों सहित चार लड़के जबरन उसे पहाड़ी इलाके में एक सुनसान जगह पर ले गए. वहां उसके साथ बलात्कार किया.

टीचर को देखकर भागे छात्र, पीड़िता को लगा वह बच गई 

इस दौरान स्कूल के हेडमास्टर ने उन्हें देख लिया. सभी आरोपी टीचर को देखकर फरार हो गए. पीड़िता को लगा कि हेडमास्टर उसे बचा लेगा. मगर, छात्रों के भाग जाने के बाद टीचर ने भी बच्ची के साथ दुष्कर्म किया.

घर पहुंचकर पीड़िता ने अपने माता-पिता को आपबीती बताई. तुरंत ही उन्होंने थान में शिकायत दर्ज कराई. पीड़िता को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा गया. यहां उसका मेडिकल करवाया गया.

इस घटना के बाद से पीड़िता सदमे में है और उसकी काउंसलिंग भी कराई जा रही है. वहीं, इस मामले पर भभुआ केएसडीपीओ सुनील कुमार सिंह ने कहा कि हेडमास्टर सहित सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें